Ram Bahal Chaudhary,Basti
Share

राजनीति व्यक्तिगत धमकियों से होती हुई सार्वजनिक मंचों पर षड्यंत्रकारियों को भेजकर राजनेताओं को बदनाम करने की हो रही है साज़िश :अखिलेश यादव

  • by: news desk
  • 16 February, 2020
राजनीति व्यक्तिगत धमकियों से होती हुई सार्वजनिक मंचों पर षड्यंत्रकारियों को भेजकर राजनेताओं को बदनाम करने की हो रही है साज़िश :अखिलेश यादव

लखनऊ: कन्नौज में समाजवादी पार्टी के महिला सम्मेलन में शनिवार को पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पहुंचे थे| यहां उन्होंने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि एक भाजपा नेता ने उन्हें फोन और मैसेज करके जान से मारने की धमकी दी है। उनकी जान को खतरा है। धमकी का मैसेज मोबाइल में सेव है।अखिलेश बोले कि इस बाबत एक दो दिन में लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस करूंगा। इस दौरान अखिलेश इस कदर नाराज हुए कि उन्होंने मंच की सुरक्षा में तैनात तालग्राम इंस्पेक्टर राजा दिनेश सिंह को जमकर फटकार लगा दी। पूछा कि आखिर उनके रहते भाजपा का आदमी यहां तक कैसे पहुंच गया।




अखिलेश यादव ने रविवार को कहा कि, देश की राजनीति व्यक्तिगत धमकियों से होती हुई सार्वजनिक मंचों पर षड्यंत्रकारियों तक को भेजकर राजनेताओं को बदनाम करने की साज़िश के निकृष्टतम दौर से गुजर रही है|लेकिन आज की समझदार जनता सब समझकर सत्ताधारियों के झाँसे में नहीं आनेवाली बल्कि सत्ता का विरोध करनेवालों के साथ खड़ी है.





समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कल शनिवार को कन्नौज में समाजवादी महिला सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि आधी आबादी के साथ अन्याय जारी है। भाजपा राज में सबसे ज्यादा अत्याचार माताओं, बहनों पर हो रहा है। उनके स्वास्थ्य और सुरक्षा की कोई व्यवस्था नहीं है। बेटियो का जीवन दूभर है। उत्तर प्रदेश में वही सबसे ज्यादा असुरक्षित हैं। उन्होने कहा कि जिस समाज में महिला का उत्पीड़न और शोषण होता है वह समाज कभी भी उन्नति नहीं कर सकता है।




अखिलेश यादव ने कहा कि आज के ही दिन महिलाओं और बेटियों के साथ दुष्कर्म और हत्या की घटनाओं की सूचना मेरठ, आगरा, फतेहाबाद, गोरखपुर, हमीरपुर, एटा बुलन्दशहर, सहारनपुर आदि जनपदों से मिली है। उन्होेेने कहा कि इन घटनाओं के लिए भाजपा सरकार जिम्मेदार है। उसका ऐंटी रोमियो स्क्वाड कहां है? उन्होने कहाकि सत्तारूढ़ दल के लोग कानून का पालन नहीं करते हैं। पुलिस हिरासत में मौते हो रही है। भाजपा राज में कालेज में छात्राओं के कपड़े उतारे जाते है।




 कहा कि भाजपा धोखे की राजनीति करती है। एनआरसी सीएए और एनपीआर लाने का क्या औचित्य हैं? मंहगाई असीमित है, गैस सिलेंडर के दामो में बेतहाशा वृृद्धि हुई है, किसान, गरीब की कहीं सुनवाई नहीं। भाजपा की गलत नीतियों का जवाब देने की ताकत समाजवादी पार्टी मे है। भाजपा कारपोरेट व्यवस्था और उद्योगपतियों के पक्ष में है। उ0प्र0 में जो एमओयू हुए उनसे निवेश कहीं नही आया। समाजवादी पार्टी भाजपा से डरने वाली नही है।




अखिलेश यादव ने कहा कि प्रदेश में न तो विकास हो रहा है और नहीं रोजगार मिल रहा है। किसान, नौजवान मारे-मारे फिर रहे हैं। भाजपा सरकार से रोजगार मांगो तो अर्बन नक्सल का तमगा लगा देते हैं। टुकड़े-टुकड़े गैंग का आरोप लग जाता है। भारतीय संविधान की बात करो तो पाकिस्तानी और देशद्रोही कह दिया जाता है। भाजपा नफरत फैलाकर राजनीति करना चाहती है। उसका काम समाज के बीच सद््भाव बिगाड़ना और दूरी पैदा करना है।




उन्होने कहा, जाति आधारित जनगणना होने पर हर जाति की संख्यानुपात में हिस्सेदारी तय हो जाएगी। एक वर्ष हो गया पुलवामा के शहीदों को अभी तक शहीद का दर्जा नहीं मिला है। जो मां गंगा को धोखा दे सकते है वे किसी को भी धोखा दे सकते है। यही भाजपा का चरित्र है। अखिलेश यादव ने कार्यकर्ताओं को नसीहत दी कि वे भाजपा के झांसे में उलझें नही। एनपीआर एनआरसी के फार्म नहीं भरे जाएगें। लोकतंत्र में सख्या की ताकत के ऊपर जनता की ताकत होती है। उन्होने भरोसा दिलाया कि समाजवादी सरकार में सभी की जाति गणना होगी। समाजवादी सरकार में अन्याय के विरूद्ध कार्यवाही होगी। समाजवादी पेंशन की राशि बढ़ाएगें। एक्सप्रेस वे पर मंडियों का अधूरा काम पूरा किया जाएगा।





आप हमसे यहां भी जुड़ सकते हैं
TheViralLines News

ईमेल : thevirallines@gmail.com
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें : https://www.facebook.com/TVLNews
हमें ट्विटर पर फॉलो करें: : https://twitter.com/theViralLines
चैनल सब्सक्राइब करें : https://www.youtube.com/TheViralLines
Loading...

You may like

स्टे कनेक्टेड

आपके लिए

आम मुद्दे और पढ़ें

Please LIKE TVL News Page. Thank you