Ram Bahal Chaudhary,Basti
Share

सिद्धार्थनगर :पूर्व में तैनात पांच बीएसए पर लटक रही कार्रवाई की तलवार, फर्जीवाड़ा के चलते यहां कोई बीएसए नहीं चाहता तैनाती

  • by: news desk
  • 13 October, 2019
सिद्धार्थनगर :पूर्व में तैनात पांच बीएसए पर लटक रही कार्रवाई की तलवार, फर्जीवाड़ा के चलते यहां कोई बीएसए नहीं चाहता तैनाती

फर्जीवाड़ा के चलते यहां कोई बीएसए नहीं चाहता तैनाती



निलंबित बीएसए ने पकड़े थे सर्वाधिक फर्जी शिक्षक भर्ती के मामले



पूर्व में तैनात पांच बीएसए पर लटक रही कार्रवाई की तलवार



 



सिद्धार्थनगर : उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर जिले में बेसिक शिक्षाधिकारी का पद जिले में आने वाले अधिकारियों के लिए जी का जंजाल बन गया है।शिक्षक फर्जीवाड़ा के चलते यहां कोई बीएसए नहीं आना चाहता है। इसे विभाग के लोग भी स्वीकार्य करते हैं। निलंबित बीएसए रामसिंह ने करीब डेढ़ वर्ष के कार्यकाल में कूट रचित दस्तावेजों के सहारे नौकरी कर रहे सर्वाधिक 92 शिक्षकों के खिलाफ बर्खास्तगी की कार्रवाई की थी।



 



जिले में फर्जी तैनाती के मामले में पूर्व में तैनात रहे पांच और बीएसए के खिलाफ भी कार्रवाई की तलवार लटक रही है।जिला फर्जी शिक्षकों की तैनाती के मामले में गढ़ बन चुका है। सैकड़ों लोग कूटरचित दस्तावेजों के सहारे वर्षो से नौकरी कर रहे हैं। इनके खिलाफ जांच शुरू करने में अधिकारी रुचि नहीं लेते हैं।



 



फर्जीवाड़े से जुड़े माफियाओं का काकस इतना बड़ा है कि वह ज्यों ही कोई जांच शुरू कराना चाहता है उसे डरा- धमकाकर चुप करा दिया जाता रहा है। जान खतरे में देख अधिकारी चुप्पी साध लेते हैं। बावजूद इसके निलंबित बीएसए ने मिली शिकायतों को आधार बनाकर लगातार जांच कराई। इस दौरान 92 फर्जी शिक्षकों की पहचान की गई। सभी को बर्खास्त किया गया। बीएसए ने जान के सुरक्षा की मांग डीएम-एसपी से की। कार्यालय पर दो पुलिसकर्मी भी तैनात किए गए हैं।



 



फर्जी शिक्षकों की तैनाती में एसटीएफ ने पूर्व में तैनात रहे पांच बीएसए को दोषी पाया है यह सभी पूर्व में इस जनपद में तैनात रह चुके हैं। इनमें बीएसए विनोद कुमार राय, अरविंद कुमार पाठक, कौशल किशोर, अजय कुमार सिंह, मनीराम सिंह शामिल हैं। जल्द ही इन पर भी कार्रवाई की उम्मीद बंधी है।



 



निलंबित बीएसएराम सिंह ने कहा कि, मैने पूरी निष्ठा से कार्य किया है। निलंबन में लगे आरोपों का जवाब दिया गया है। शासन के आदेश का पालन करता रहूंगा।


आप हमसे यहां भी जुड़ सकते हैं
TheViralLines News

ईमेल : thevirallines@gmail.com
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें : https://www.facebook.com/TVLNews
हमें ट्विटर पर फॉलो करें: : https://twitter.com/theViralLines
चैनल सब्सक्राइब करें : https://www.youtube.com/TheViralLines
Loading...

You may like

स्टे कनेक्टेड

आपके लिए