Ram Bahal Chaudhary,Basti
Share

Coronavirus से बचाव व रोकथाम के लिए युद्ध स्तर करे कार्य : डीएम, रायबरेली

  • by: news desk
  • 03 April, 2020
Coronavirus से बचाव व रोकथाम के लिए युद्ध स्तर करे कार्य : डीएम, रायबरेली

 कोविड-19 कोरोना वायरस से बचाव व रोकथाम के लिए युद्ध स्तर करे कार्य : डीएम

  12 हजार से अधिक निराश्रित असहाय श्रमिको आदि को कम्युनिटी किचन के माध्यम से दिया जा रहा है भोजन : डीएम

  क्वारंटाइन करने में किसी भी प्रकार की शिथिलता नही होगी क्षम्य : शुभ्रा




रायबरेली: केन्द्र व प्रदेश सरकार द्वारा कोविड-19 महामारी से निपटने हेतु सभी आवश्यक कदम उठा रही है, तथा लाक डाउन भी चल रहा है। जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना ने अधिकारियों को बचत भवन के सभागार में सामाजिक दूरी बनाते हुए निर्देश दिये है कि लाक डाउन को उद्देश्य सक्रमण को फैलने रोकने के साथ ही कोरोना वायरस की चैन को तोड़ना है। संक्रमण को रोकने के उद्देश्य से केन्द्र सरकार द्वारा पूरे सम्पूर्ण भारत में लाक डाउन किया गया है तथा कोरोना वायरस को रोकने के लिए सभी आमजन मानस को घरों से बाहर नही निकला है। 




उन्होंने समस्त एसडीएम को निर्देश दिये है कि जो लोग विभिन्न जनपदों में आयोजित जमातों में शामिल हुए है तथा जनपद में है उन्हें तत्काल नगर में बने क्वारंटीन केन्द्र व आश्रय स्थलों में लाकर उन्हें मूलभूत आवश्यक सुविधाए देते हुए क्वॉरेंटाइन करें। क्वारंटाइन में किसी भी प्रकार की शिथिलता न बरती जाये। 




उन्होंने कहा कि क्वारंटीन स्थलों पर विशेष निगरानी रखते हुए उन लोगों जागरूक करे कि व उनके व उनके परिवार, समाज व देश हित के लिए है क्वारंटीन के लिए अपना पूरा सहयोग करे। उन्होंने एसडीएम सलोन, ऊँचाहार, बछरावां, महराजगंज आदि को निर्देश दिये कि व तत्काल आवश्यक कार्यवाही करे। इसके अलावा जो गांव में आश्रय स्थल बनाये गये है जहां पर परदेशी सहित गांव के लोग रह रहे है उन्हें तहसील व ब्लाक पर किसी इण्टर कालेज या अच्छे स्थान पर बेहतर आश्रय स्थल बनाकर उनको रखा जाये तथा भोजन, पानी एवं मूलभूत सुविधाओं की किसी भी प्रकार की कोई कमी न हो। शहर व ग्रामीण क्षेत्रो तक जो आश्रय स्थल बने हुए है उनमें किसी भी प्रकार की कोई कमी न रहे।






जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना ने कहा कि शहरी व ग्रामीण इलाको में 1148 क्वारंटाइन केन्द्र स्थापित किये गये है जिसमें लगभग 25000 लोगों को रखा जा सकता है। अबतक 7887 रोके गये है। जांच रिपोर्ट प्राप्त न होने के कारण व चिकित्सय देख-रेख में रखे जाते है। क्वारंटाइन होम में रोके गये व्यक्तियों को भोजन बिस्तर, साबुन आदि आवश्यक सुविधाए उपलब्ध कराई जा रही है। इन स्थानों की नियमित रूप से साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाता है। निराश्रित असाहाय दिव्यांग जन/भिक्षुकों एवं श्रमिको हेतु 138 सरकारी कम्युनिटी किचन जिसमें नगर में 9 ग्रामीण क्षेत्रों में 129 संचालित है। गैर सरकारी/स्वैच्छिक संस्थाओं द्वारा संचालित 22 किचन कुल 160 किचन संचालित है। जिसमें सरकारी कम्युनिटी किचन माध्यम से प्रतिदिन लगभग 9000 व्यक्तियों को भोजन/पैकेज व गैस सरकारी के माध्यम से प्रतिदिन लगभग 3000 व्यक्तियों को भोजन मुहैया कराया जा रहा है। अबतक 12000 से अधिक लोगों भोजन/पैकेट मुहैया कराया जाता है।





गौशाला एवं निराश्रित पशुओं के लिए जनपद में 42 गौशालाओं जिसमें 6443 पशु है जिन्हे हरा चारा, भूसा, चूनी रोटी आदि दिया जा रहा है। इसके अलावा सड़कों पर घुमने वाले निराश्रित पशु कुत्ते, घोड़ा, गधा पशु चिकित्साधिकारी द्वारा भोजन मुहैया करवाया जा रहा है। जनपद में राशन कार्ड धारकों को युद्ध स्तर पर राशन मुहैया करवाया जा रहा है। जिसमें 548921 कार्ड धारको जिसमें आजतक लाभार्थी 151001 एवं अन्त्योदय कार्ड धारक 101913, अन्त्योदय, मनरेगा में पंजीकृत, श्रम विभाग में पंजीकृत 79501 लाभार्थियों को राशन सामग्री प्राप्त कराई जा चुकी है। डायरेक्ट बेनीफिट ट्रासंफर हेतु लाकडाउन से प्रभावित श्रमिक आदि को उपलब्ध कराये जाने वाली अंकन 1000 की धनराशि उपलब्ध कराने हेतु सर्वेक्षण का कार्य पूर्ण कराकर लाभार्थियों का चयन किया जा चुका है। जिसमें से 5165 व्यक्तियों को 5165000 की धनराशि स्थानान्तरित की जा चुकी है।






जिलाधिकारी ने समस्त अधिकारियों को निर्देश दिये कि लॉकडाउन की स्थिति में कोई आमजन अनावश्यक रूप से बाहर न निकले उनको खाद्यान्न, दूध, सब्जी दैनिक उपभोग की वस्तुओं को नियमित आपूर्ति हेतु 84 प्राविजन स्टोर को पास निर्गत किये गये है जिसके माध्यम से डोर-टू-डोर उपभोक्ताओं को सामग्री पहुचाई जा रही है। सब्जियों एवं फलों की आपूर्ति हेतु 53 छोटे वाहन एवं 65 हत्थुठेलाओं को पास निर्गत किये गये है जिसके माध्यम से सब्जियां व फल उपभोक्ताओं को निगत किये जा रहे है। इसी प्रकार दूध की आपूर्ति के लिए 54 पास व 24 दूधियों को भी पास जारी किये गये है। ताकि दूध आदि सामग्री को घर-घर पहुचा सके। उन्होंने निर्देश दिये है कि कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण से बचाव व रोकथाम के लिए युद्ध स्तर पर कार्य किया जाये।इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक गोयल, मुख्य चिकित्साधिकारी संजय कुमार शर्मा, एडीएम प्रशासन, वि0रा0, नगर मजिस्ट्रेट व एसडीएम को उचित दिशा निर्देश दिये गये।







रिपोर्ट- अभिषेक बाजपेयी



आप हमसे यहां भी जुड़ सकते हैं
TheViralLines News

ईमेल : thevirallines@gmail.com
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें : https://www.facebook.com/TVLNews
हमें ट्विटर पर फॉलो करें: : https://twitter.com/theViralLines
चैनल सब्सक्राइब करें : https://www.youtube.com/TheViralLines
Loading...

You may like

स्टे कनेक्टेड

आपके लिए

Please LIKE TVL News Page. Thank you