Ram Bahal Chaudhary,Basti
Share

आरोग्य सेतु एवं आयुष कवच कोविड एप आमजनमानस को डाउनलोड कराने के लिए करे प्रेरित : DM

  • by: news desk
  • 20 May, 2020
  • 0
 आरोग्य सेतु एवं आयुष कवच कोविड एप आमजनमानस को डाउनलोड कराने के लिए करे प्रेरित : DM

• कंट्रोल इंटीग्रेटेड कंटोल रूम में अबतक 8293 शिकायतों में से 8280 शिकायतों का किया गया निस्तारण

• 429762 व्यक्तियों को भोजन एवं 8062 परिवारों को राशन सामग्री के पैकेट किया गया वितरण : शुभ्र सक्सेना

• घरों में रहे स्वयं व अन्य को भी सुरक्षित रखे : डीएम

• आरोग्य सेतु एवं आयुष कवच कोविड एप आमजनमानस को डाउनलोड कराने के लिए करे प्रेरित : DM




रायबरेली: जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना ने निर्देश दिये है कि घनी आबादी वाले क्षेत्रों में नियमित पेट्रोलिंग किये जाने के साथ ही लॉकडाउन का कड़ाई से अनुपालन कराया जाये इसके अलावा जो क्वारंटीन सेंन्टरों में सोशल डिस्टेन्सिंग पर विशेष ध्यान दिया जाये और पूरी सावधानी और सतर्कता बरती जाये। कोरोना योद्धा विशेष कर स्वास्थ्य कर्मचारियों पर किसी भी प्रकार का दुव्यवहार किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नही किया जायेगा। उन्होंने कड़े निर्देश दिये सीडीओ, एडीएम ई व एफआर व समस्त एसडीएम कोरोना योद्धा विशेष कर स्वास्थ्य कर्मी, सफाई कर्मचारियों, पुलिस कर्मी आदि जो कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए जी जान से लगे हुए है। उन पर विशेष ध्यान दिया जाये। इसके अलावा लॉकडाउन का पालन व लोगों को घरों में रहने की हिदायत देते रहे। आमजन मानस को आरोग्य सेतु एव आयुष कवच कोविड एप डाउनलोड करने के लिए प्रेरित भी करते रहे।



जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना ने कहा कि शहरी व ग्रामीण इलाको में 99 शेल्टर होम स्थापित है जिसमें 12794 लोगों को रखा जा सकता है। अबतक 143 रोके गये है। जांच रिपोर्ट प्राप्त न होने के कारण व चिकित्सय देख-रेख में रखे जाते है। क्वारंटाइन होम में रोके गये व्यक्तियों को भोजन बिस्तर, साबुन इत्यादि आवश्यक सुविधाए उपलब्ध कराई गई है। इन स्थानों की नियमित रूप से साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाता है। अभी तक जनपद के कुल 31279 व्यक्तियों को होम क्वारंटाइन कराया जा चुका है। 




निराश्रित असहाय दिव्यांग जन/भिक्षुकों एवं श्रमिको हेतु सरकारी कम्युनिटी किचन 13 एवं गैर सरकारी/स्वैच्छिक संस्थाओं द्वारा संचालित 3 किचन कुल 16 किचन संचालित है। जिसमें सरकारी कम्युनिटी किचन माध्यम से प्रतिदिन 4660 व्यक्तियों को भोजन/पैकेज व गैस सरकारी के माध्यम से प्रतिदिन 750 व्यक्तियों को भोजन मुहैया कराया जा रहा है। अबतक कुल लोगों को 429762 व्यक्तियों को भोजन एवं 8062 परिवारों को राशन सामग्री के पैकेट उपलब्ध कराये गये है। अन्य प्रदेशों एवं प्रदेश के अन्य जनपदों से आने वाले व्यक्तियों के सम्बन्ध में रायबरेली के निवासी जो जनपद मे 32650 रूके हुए, अन्य प्रदेश/देश के निवासी जो जनपद में 84 रूके कुल 32734 व्यक्तियों के रूके हुए है। अन्य प्रदेश के निवासी जो अन्यत्र चले गये 785, कुल 33519 है। शेल्टर होम में क्वारंटाइन 143, होम क्वारंटाइन 28939, चिकित्सीय देख-रेख में 120, डिस्चार्ज 468 किये गये है। 




जिलाधिकारी ने बताया है कि आश्रम स्थल से क्वारंटाइन अवधि पूर्ण कर अपने निवास स्थान/घर जाने वाले व्यक्तियों को अबतक 18499 एवं पात्र आमजनमानस को उपलब्ध कराई गई 199 कच्ची खाद्य सामग्री किट उपलब्ध करायी गयी है। सामाजिक सहयोग से निःशुल्क आमजनमानस को उपलब्ध कराई गई 8062 कच्ची खाद्य सामग्री किट उपलब्ध करायी गयी है। निराश्रित एवं गोशालाओं के लिए जनपद में स्थित 42 गोशालाओं में 6245 पशुओं को रखा गया है निराश्रित एवं गोशालाओं के लिए पशुओं के लिए हरा चारा, भूसा, चूनी, रोटी आदि की व्यवस्था की गई है। 



कोई आमजन अनावश्यक रूप से बाहर न निकले इसके लिए खाद्यान्न, दूध, सब्जी दैनिक उपभोग की वस्तुओं को नियमित आपूर्ति हेतु 209 प्राविजन स्टोर को पास निर्गत किये गये ह जो 233 व्यक्तियों के माध्यम से डोर-टू-डोर उपभोक्ताओं को सामग्री पहुचाई जा रही है। सब्जियों एवं फलों की आपूर्ति हेतु 107 छोटे वाहन एवं 135 हत्थुठेलाओं कुल 242 पास निर्गत किये गये है जिसके माध्यम से सब्जियां व फल उपभोक्ताओं को निगत किये जा रहे है। इसी प्रकार दूध की आपूर्ति के लिए 60 पास व 25 दूधियों को भी पास जारी किये गये है। ताकि दूध आदि सामग्री को घर-घर पहुचा सके। अबतक लगभग 22200 लीटर दूध का वितरण किया जा चुका है।




कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण से बचाव व रोकथाम के लिए युद्ध स्तर पर कार्य किया जाये। दवाओं की आपूर्ति के लिए 17 कार्यरत मेडिकल एजेन्सी, 84 मेडिकल स्टोर एवं दुकान संचालन एवं डोर स्टेप डिलीवरी के लिए कुल 272 पास निर्गत किये गये है। इन दुकानो पर सोशल डिस्टेसिंग के मानकों का अनुपालन कराते हुए दवाओं की आपूर्ति करायी जा रही है। 



लॉकडाउन से प्रभावित श्रमिकों आदि को उपलब्ध कराये जाने वाली अंकन 1000 रू की धनराशि उपलब्ध कराने हेतु सर्वेक्षण का कार्य पूर्ण कराकर लाभार्थियों का चयन किया जा चुका है। अब तक कुल 9818 व्यक्तियों को कुल 9818000 धनराशि स्थानान्तरित की जा चुकी है। श्रम विभाग में पंजीकृत 38191 श्रमिकों में से 37956 श्रमिकों के खातों में 3 करोड़ 79 लाख 56 हजार की धनराशि स्थानान्तरित किए जा चुके है।




कंट्रोल इंटीग्रेटेड कंटोल रूम में विभिन्न माध्यमों से प्राप्त शिकायतों का अबतक 8293 से 8280 प्राप्त शिकायतों को निस्तारण व सत्यापन कर लिया गया है। निस्तारण का प्रतिशत 99.84 है। इसी प्रकार आईजीआरएस, सीएम हेल्पलाइन 5077 में से 5075 के माध्यम से 99.96 प्रतिशत, कंट्रोल रूम में स्थापित दूरभाष पर प्राप्त 1988 में से 1982 निस्तारित का 99.70 प्रतिशत की जा चुकी है। 



डायल 112 पर ऑनलाइन प्राप्त 568 में से 564 निस्तारण शिकायतो का निस्तारण का 99.30 प्रतिशत है, राहत आयुक्त के कार्यालय पर स्थापित काल सेन्टर 1070 पर ऑनलाइन पर 660 में से 659 निस्तारित, निस्तारण 99.85 प्रतिशत है। कोविड-19 के तहत निर्गत किए गए नगरी व ग्रामीण क्षेत्र में अभियान के दौरान प्राप्त प्रार्थना नगरी क्षेत्र में 2157 में से पात्र लाभार्थियों से सापेक्ष 1665 राशन कार्ड जारी किये गये है। ग्रामीण क्षेत्र में 14256 में से पात्र लाभार्थियों से सापेक्ष 14188 राशन कार्ड जारी किये गये है।




आप हमसे यहां भी जुड़ सकते हैं
TheViralLines News

ईमेल : thevirallines@gmail.com
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें : https://www.facebook.com/TVLNews
हमें ट्विटर पर फॉलो करें: : https://twitter.com/theViralLines
चैनल सब्सक्राइब करें : https://www.youtube.com/TheViralLines
Loading...

You may like

स्टे कनेक्टेड

आपके लिए

आम मुद्दे और पढ़ें