Ram Bahal Chaudhary,Basti
Share

67 लाख देने के बाद भी नहीं मिला विधानसभा का टिकट, तो थाने में फूट-फूट कर रोए BSP नेता अरशद राणा, अगर पैसा वापस नहीं मिला तो मायावती के आवास पर करूंगा आत्मदाह; रोते हुए बोले- मेरा तमाशा बना दिया

  • by: news desk
  • 14 January, 2022
 67 लाख देने के बाद भी नहीं मिला विधानसभा का टिकट, तो थाने में फूट-फूट कर रोए BSP नेता अरशद राणा, अगर पैसा वापस नहीं मिला तो मायावती के आवास पर करूंगा आत्मदाह; रोते हुए बोले- मेरा तमाशा बना दिया

मुजफ्फरनगर: विधानसभा का टिकट ना मिलने के कारण मुजफ्फरनगर थाने में फूट फूट कर रोए BSP नेता अरशद राणा| BSP कार्यकर्ता अरशद राणा यह दावा करते हुए फूट-फूट कर रोने लगे कि आगामी चुनावों के लिए पार्टी की तरफ़ से उन्हें टिकट देने का वादा किया गया था। लेकिन उन्हें अंतिम समय में टिकट से वंचित कर दिया गया| अरशद राणा का आरोप - 'BSP नेता ने इनसे टिकट दिलवाने के नाम पर 67 लाख रुपए लिए थे', अब अगर पैसे वापस नहीं मिला तो आत्मदाह करेंगे'|


मुजफ्फरनगर जिले की चरथावल सीट से टिकट कटने पर बसपा नेता अरशद राणा का दर्द यहां शहर कोतवाली में फूट पड़ा। पुलिस के सामने उन्होंने फूट-फूटकर रोते हुए आरोप लगाया कि पार्टी के एक वरिष्ठ नेता को दो वर्ष पहले टिकट के लिए 67 लाख रुपए दिए थे, लेकिन उन्हें उनका टिकट काट दिया गया। उनके रुपये भी वापस नहीं किए गए। 



अरशद राणा ने चेतावनी दी कि यदि उन्हें इंसाफ नहीं मिला तो वह आत्मदाह करेंगे। अरशद राणा ने बसपा के एक पदाधिकारी के खिलाफ तहरीर दी है। पुलिस जांच के बाद कार्यवाही की बात कह रही है।




शहर कोतवाली में उन्होंने तहरीर देकर आरोप लगाया कि एक वरिष्ठ बसपा नेता चरथावल सीट से पार्टी का टिकट दिलाने के एवज में उनसे 67 लाख रुपए लिए थे। अरशद राणा ने बसपा नेता से 67 लाख रुपए वापस दिलाने और उन पर कानूनी कार्रवाई करने की मांग की। उन्होंने कहा कि पार्टी नेताओं ने उनका तमाशा बना दिया। बंद कमरे मे बैठकर उन्हें विश्वास में लेकर टिकट दूसरे को दे देते तो उन्हें इतनी तकलीफ न होती।




अरशद राणा ने कहा,''मैं 24 साल से काम कर रहा हूं|  2018 (2022 यूपी चुनावों के लिए) में औपचारिक रूप से चरथवल से उम्मीदवार घोषित किया गया था| राणा ने कहा,'मैं पार्टी से संपर्क करने की कोशिश कर रहे हैं, कोई उचित प्रतिक्रिया  (BSP से) नहीं मिली है| अब फिर 50 लाख रुपये की व्यवस्था करने को कहा गया है|




BSP में काफी समय से सक्रिय

चरथावल विधानसभा क्षेत्र के गांव दधेड़ु निवासी अरशद राणा काफी दिनों से बसपा में सक्रिय हैं। जिला पंचायत सदस्य पद पर उनकी पत्नी ने बसपा के सिंबल पर चुनाव भी लड़ा था। अरशद राणा गौड़ कई महीनों से बसपा से चरथावल सीट से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे थे। एक दिन पहले ही बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट कर जानकारी दी कि चरथावल विधानसभा सीट से पार्टी ने सलमान सईद को प्रत्याशी बनाया है। सलमान सईद प्रदेश के पूर्व गृह राज्यमंत्री सईदुज्जमां के बेटे और कांग्रेस नेता हैं। सलमान सईद को चरथावल से बसपा का टिकट दिए जाने की घोषणा से आहत अरशद राणा ने अपनी व्यथा सुनवाई। उन्होंने बसपा नेताओं पर गंभीर आरोप लगाए। साथ ही आत्मदाह करने तक की धमकी तक दी।


'पहले सोशल मीडिया पर फूटा अरशद का गुबार

बहुजन समाज पार्टी के पश्चिम प्रभारी शमसुद्दीन राइन ने अगर मेरा चुनाव के नाम पर लिया गया पैसा वापस नहीं किया तो लखनऊ में बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो बहन कुमारी मायावती के आवास पर आत्मदाह करूंगा| 



सलमान सईद को चरथावल से बसपा का टिकट दिए जाने की घोषणा से आहत अरशद राणा ने पहले सोशल मीडिया पर अपनी व्यथा लिखी। इसमें उन्होंने टिकट न मिलने से आहत होने की बात कहते बसपा नेताओं पर गंभीर आरोप लगाए। साथ ही आत्मदाह करने तक की धमकी तक दी।



अरशद राणा ने कहा,'''मैं बहुजन समाज पार्टी का चरथावल विधानसभा प्रभारी अरशद राणा मेरी घोषणा 18 दिसंबर 12 महीने को 2018 में माननीय पश्चिम के उत्तर प्रदेश प्रभारी माननीय शमसुद्दीन राय ने चरथावल विधानसभा में कार्यक्रम रखवा कर की थी| कार्यक्रम में सहारनपुर मंडल और मुजफ्फरनगर के सभी पदाधिकारी मौजूद थे| लगभग 4 वर्ष से मैं चरथावल विधानसभा में रात दिन मेहनत कर रहा हूं और सभी साथी जानते हैं कि मेरी मेहनत में कोई कसर कोरबा की नहीं रही है| अब जब चुनाव सर पर आ गया है तो अब आने के बाद में इन लोगों ने मुझे इग्नोर करना शुरु कर दिया|  लगभग तीन चार महीने से लगातार में मुजफ्फरनगर के जिला अध्यक्ष सतीश कुमार को भी कॉल कर रहा हूं और उन्हें मिलकर भी बता रहा हूं कि मेरे साथ में ऐसा नहीं होना चाहिए| 



जिला अध्यक्ष सतीश कुमार ने लखनऊ में मीटिंग के दौरान राम जी को कहा कि अरशद राणा का मामला निपटा दो| उन्होंने कहा कि मैं लेट आऊंगा बैठकर बात होगी उसके बाद में फिर मैंने जिलाध्यक्ष को कहा तो उन्होंने गाजियाबाद में पश्चिम प्रभारी शमसुद्दीन राय जी के आवास पर मेरी बात कही तो उसके बाद भी शमसुद्दीन यही बात कही के हम उसके पैसे वापस कर देंगे जो चुनाव के लिए लिए थे पर मेरा ₹ 67 लाख में से ₹1 भी वापस नहीं दिया इन्होंने|



टिकट मांगने पर 50 लाख रुपए और मांगे:राणा

जब मैं आज से 1 दिन पहले यानी कि कल पार्टी कार्यालय महावीर चौक पर गया और मैंने जिलाध्यक्ष से बात की तो जिला अध्यक्ष ने मेरे से चुनाव के नाम पर ₹5000000 और देने को कहा|  मैंने कहा घर जाकर मशवरा करके बताऊंगा| मैंने शाम को जिला अध्यक्ष सतीश कुमार को कॉल किया जिला अध्यक्ष सतीश कुमार ने कहा अभी मेरी पश्चिम प्रभारी शमसुद्दीन दिन से बात नहीं हुई और मैं आपको सुबह बताऊंगा| मैंने कहा मैंने मशवरा कर लिया है मैं आपको चुनाव के नाम के जो आपने मेरे से ₹5000000 मांगे हैं उनका 2500000 रुपए में आपको अभी दे दूंगा और 2500000 रुपए जब मेरी घोषणा हो जाएगी उसके बाद क्योंकि 6700000 रुपए मेरे पहले ही जा रखे हैं|



2 दिन के अंदर अंदर मेरा पैसा वापस नहीं किया...: राणा

मेरे साथ इस तरह का सौतेला व्यवहार पश्चिम प्रभारी शमसुद्दीन राय द्वारा किया जा रहा है| मैं सभी साथियों से अपनी पीड़ा बता रहा हूं आप सभी साथी मेरे लिए दुआ करें और अगर इन्होंने 2 दिन के अंदर अंदर मेरा पैसा वापस नहीं किया या मुझे चुनाव लड़ने के लिए नहीं कहा.. 4 साल से मेहनत करी. मैंने 4 साल से सारे पार्टी के जो भी आदेश हुए पूरे किए मैंने और आज जब वक्त आ गया उस वक्त लाकर मेरे ऊपर किसी को थोपना चाहते हैं |सम्मानित साथियों अगर 2 दिन में इन्होंने मेरी बात का निस्तारण नहीं किया तो मैं लखनऊ में माननीय बहन जी के आवास पर करूंगा आत्मदाह|  सबका सबूत मेरे पास मौजूद है|




Video:

आप हमसे यहां भी जुड़ सकते हैं
TVL News

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें : https://www.facebook.com/TVLNews
चैनल सब्सक्राइब करें : https://www.youtube.com/TheViralLines
हमें ट्विटर पर फॉलो करें: https://twitter.com/theViralLines
ईमेल : thevirallines@gmail.com

You may like

स्टे कनेक्टेड