Ram Bahal Chaudhary,Basti
Share

Ayodhya Verdict के बाद सोशल मीडिया के जरिए माहौल खराब करने की कोशिश करने वाले 99 गिरफ्तार, 65 मामले दर्ज

  • by: news desk
  • 12 November, 2019
  • 0
 Ayodhya Verdict के बाद सोशल मीडिया के जरिए माहौल खराब करने की कोशिश करने वाले 99 गिरफ्तार, 65 मामले दर्ज

लखनऊ: अयोध्या मामले पर शनिवार को सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद से अब तक सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट करने के आरोप में उत्तर प्रदेश में करीब 77 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।



उत्तर प्रदेश DGP कार्यालय दवारा जारी बयान के मुताबिक Ayodhya Verdict के बाद सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट के लिए 12 नवंबर तक 99 लोगों को गिरफ्तार किया गया और 65 मामले दर्ज किए गए। 13,016 सोशल मीडिया पोस्ट के खिलाफ भी कार्रवाई की गई है, जिसमें उक्त पोस्टों की रिपोर्टिंग और विलोपन शामिल है।



इससे पहले अयोध्या विवाद में शनिवार को सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद से रविवार शाम तक सोशल मीडिया पर आपत्तिजनक पोस्ट करने के आरोप में उत्तर प्रदेश में करीब 77 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। रविवार को UP डीजीपी ने बताया था कि अयोध्या प्रकरण में सोशल मीडिया पर माहौल खराब करने की कोशिश करने वालों के खिलाफ कार्रवाई दूसरे दिन भी जारी रही। रविवार को 22 मुकदमे दर्ज किए गए और 40 लोगों को गिरफ्तार किया गया। शनिवार को 12 मुकदमे दर्ज किए गए थे और 37 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। यानी 24 घंटों में ही 77 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। 




उन्होंने बताया था कि रविवार को पूरे प्रदेश से कुल 4563 सोशल मीडिया पोस्ट के खिलाफ कार्रवाई की गई। इसमें रिपोर्ट कर पोस्ट को हटवाना, डायरेक्ट मैसेज के जरिए डिलीट कराना और प्रोफाइल हटवाना शामिल है। ट्विटर, फेसबुक, व्हाट्सएप और यूट्यूब पर किए गए कुल 8275 सोशल मीडिया पोस्ट के खिलाफ कार्रवाई की गई थी।  



पुलिस की सोशल मीडिया टीम ट्विटर, फेसबुक और यूट्यूब पर निगरानी रखने के साथ ही व्हाट्सएप पर ग्रुप मैसेज और पर्सनल मैसेज की शिकायतों पर भी कार्रवाई कर रही थी। सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने से एक दिन पहले यूपी पुलिस ने आपत्तिजनक पोस्ट की जानकारी देने के लिए व्हाट्सएप नंबर 8874327341 जारी किया  था। 



लगभग 200 व्हाट्सएप यूजर के खिलाफ शिकायत मिली जिन पर कार्रवाई की गई और व्हाट्सएप यूजर को चेतावनी भी दी गई। शिकायत करने वालों की पहचान गोपनीय रखी गई। डीजीपी ने लोगों से इस व्हाट्सएप नंबर पर आपत्तिजनक पोस्ट के बारे में सूचना देने की अपील की है, ताकि उन पर कार्रवाई की जा सके। उन्होंने कहा कि यदि किसी व्हाट्सएप ग्रुप में भड़काऊ मैसेज किए जाते हैं तो ग्रुप एडमिन भी इसका जिम्मेदार होगा।




पुलिस अधीक्षक गोण्डा(UP) द्वारा जारी निर्देश/ सूचना: शासन प्रशासन द्वारा दिए गए निर्देशों के बावजूद भी निर्देशों का उल्लंघन करते हुए एक ग्रुप में दो व्यक्तिओ द्वारा एक फारवर्ड मेसेज के माध्यम से अमर्यादित टिप्पणी की गई है जिस पर प्रशासन द्वारा संज्ञान लेते हुए उनके विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत किया गया है। उनकी गिरफ्तारी हेतु दबिश दी जा रही है।। अतः सभी से निवेदन है कि किसी भी प्रकार की कोई अमर्यादित टिप्पणी ना करें अन्यथा संबंधित के खिलाफ भी कार्यवाही की जाएगी।





आप हमसे यहां भी जुड़ सकते हैं
TheViralLines News

ईमेल : thevirallines@gmail.com
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें : https://www.facebook.com/TVLNews
हमें ट्विटर पर फॉलो करें: : https://twitter.com/theViralLines
चैनल सब्सक्राइब करें : https://www.youtube.com/TheViralLines
Loading...

You may like

स्टे कनेक्टेड

आपके लिए