Ram Bahal Chaudhary,Basti
Share

भाजपा राज में महिलाएं और बेटियां सुरक्षित नहीं है, चाहे वे पढ़ने जाएं या नौकरी पर जाएं असुरक्षा का भय आतंक बनकर साथ चलता है:अखिलेश यादव

  • by: news desk
  • 02 December, 2019
भाजपा राज में महिलाएं और बेटियां सुरक्षित नहीं है, चाहे वे  पढ़ने जाएं या नौकरी पर जाएं असुरक्षा का भय आतंक बनकर साथ चलता है:अखिलेश यादव

लखनऊ: महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भाजपा के शासन में महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं। वे डर के साथ से बाहर निकलती हैं, चाहे वे काम पर जाते हों या किसी समारोह में शामिल होने के लिए। यह किसी भी सभ्य समाज के लिए निंदनीय है|





अखिलेश यादव ने कहा है कि, भाजपा राज में महिलाएं और बेटियां सुरक्षित नहीं है। वे घर से बाहर निकलें, पढ़ने जाएं, किसी समारोह में जाएं या अपनी नौकरी पर जाएं उनके लिए असुरक्षा का भय आतंक बनकर साथ चलता है। हर दिन बलात्कार और यौन हिंसा के मामले दर्ज होते हैं। नाबालिग बच्चियां भी इस क्रूरता की शिकार होती हैं। किसी भी सभ्य समाज के लिए यह स्थिति अत्यंत शोचनीय और निंदनीय है।





उन्होने कहा कि उत्तर प्रदेश में तो हालत दिन पर दिन खराब होते जा रहे हैं। हर दिन दुष्कर्म के काण्ड होते हैं। बेटी बचाओं, बेटी पढ़ाओं के कथित प्रचारक सत्ता में रहते हुए भी अमानवीय घटनाओं पर रोक लगाने में विफल हैं। अभियोजन पक्ष तो और भी कमजोर है जिसका अपराधी फायदा उठाते हैं। इसमें सत्ता पक्ष की नीतियां भी दोषी हैं। आज जंगलराज का शिकार हर बेटी हत्या प्रदेश में खुद को असुरक्षित महसूस कर रही है। समाजवादी सरकार में महिलाओं से छेड़छांड़ की घटनाएं रोकने के लिए 1090 योजना शुरू की गई थीं। इस व्यवस्था को भाजपा सरकार ने शिथिल कर दिया है। अपराध नियंत्रण के लिए यूपी डायल 100 की व्यवस्था की गयी थी उसको भी भाजपा सरकार द्वारा 112 संख्या में बदलकर निष्प्रभावी बना दिया गया है।




उत्तर प्रदेश में मैनपुरी नवोदय विद्यालय में छात्रा की संदिग्ध मौत दो महीने पहले हुई लेकिन जांच कार्यवाही में लेट लतीफी हुई, सीतापुर में मछेरहटा के एक गांव में किशोरी से बंधक बनाकर दुराचार किया गया, आजमगढ़ में भी एक किशोरी से दुष्कर्म, सम्भल में कई दिन जीवन से संघर्ष के बाद रेप पीड़िता की मौत, हरदोई के सुरसा थाना क्षेत्र में 7 वर्ष की कक्षा 3 की छात्रा गांव में बारात देखने निकली थी, जो दुष्कर्म की शिकार हुई।




अखिलेश यादव ने कहा कि अम्बेडकरनगर में मालीपुर थाना क्षेत्र में ननिहाल से लौट रही एक नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म की घटना हुई है। प्रदेश के तमाम जनपदों से ऐसी ही घटनाएं सामने आई हैं। ये ताजा घटनाएं हैं जो दिल दहलाती हैं।




उन्होने कहा कि दिल्ली के निर्भया काण्ड से लेकर हैदराबाद के प्रियंका काण्ड तक सरकारों का संवेदनहीन रवैया ही सामने आता है। प्रदेश में उन्नाव काण्ड, शाहजहांपुर काण्ड जैसी दुष्कर्म की घटनाएं इंसानियत को कलंकित करने वाली रही है जो आज भी सिहरन पैदा करती हैं। कानून व्यवस्था बनाए रखने पर करोड़ों का बजट खर्च करने वाली सरकार क्या दिन या रात में बेटियों-बहुओं का घर से बाहर निकलना सुरक्षित नहीं बना सकती है? सरकार सुरक्षित व्यवस्था नहीं बना सकती हैं तो उसे सत्ता में बने रहने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है।





आप हमसे यहां भी जुड़ सकते हैं
TheViralLines News

मोबाइल नंबर : +91-9999-65-68-69
ईमेल : thevirallines@gmail.com
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें : https://www.facebook.com/TVLNews
हमें ट्विटर पर फॉलो करें: : https://twitter.com/theViralLines
चैनल सब्सक्राइब करें : https://www.youtube.com/TheViralLines
loading...
Loading...

You may like

स्टे कनेक्टेड

आम मुद्दे और पढ़ें