Ram Bahal Chaudhary
Ram Bahal Chaudhary,Basti
Share

भाजपा राज में जंगलराज का पर्याय बन गया है उत्तर प्रदेश: अखिलेश यादव

  • by: news desk
  • 16 February, 2021
भाजपा राज में जंगलराज का पर्याय बन गया है उत्तर प्रदेश: अखिलेश यादव

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा जनविरोधी और किसान विरोधी है। बेइंसाफी और विषमता का विरोध उसके एजेंडा में नहीं। नारी का मान सम्मान बचाने और जनता और व्यापारी को जानमाल की सुरक्षा के संबंध में भाजपा सरकार को कोई चिंता नहीं। उत्तर प्रदेश भाजपा राज में जंगलराज का पर्याय बन गया है। अराजकता, अव्यवस्था और अपराधिक गतिविधियों में बढ़ोत्तरी से लोग त्रस्त हैं।



अखिलेश यादव ने आगे कहा है कि, मुख्यमंत्री जी के गृह जनपद गोरखपुर में, पर्यटन नगरी आगरा में कई ज्वैलर्स और बैंक लुट गए। गोरखपुर की एक ज्वैलरी शाप में 37 लाख 60 हजार रूपए की लूट हुई। आगरा में कैनरा बैंक की शाखा में गोलियां बरसाकर लूट की वारदात को अंजाम दिया गया। व्यापारियों को सत्ता संरक्षित अपराधियों से सुरक्षा देने के बजाय भाजपा सरकार में 195 कारोबारियों से पुलिस भी अवैध वसूली करने लगी है। नोएडा में एक फाइनेंस कम्पनी मालिक से उगाही करने में दारोगा-पुलिस सिपाही का नाम उजागर हुआ है।



'उन्होंने कहा, भाजपा के डिप्टी सीएम, 2 कैबिनेट मंत्री, सांसद, मेयर, विधायक के होते हुए भी प्रयागराज में बेखौफ हत्यारों ने जार्ज टाउन में एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी। एटा में युवक की लाश पेड़ से लटकी मिली। अमेठी में क्लीनिक संचालक की हत्या हुई।



अखिलेश यादव ने कहा है कि,' बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का नारा बुरी तरह खोखला साबित हुआ है। भाजपा राज में बहन, बेटी और महिलाओ का जीवन मुश्किल में है। आगरा में भाजपा नेता ने नौकरानी से छेड़छाड़ की। ओहदा का रूतबा दिखाकर पीड़ित को ही समझौते के लिए परेशान किया जा रहा है। बरेली में 12 साल की बच्ची की अपहरण के बाद हत्या कर दी गई। माधोगंज में खेत की रखवाली कर रही किशोरी से दुष्कर्म की घटना हुई।



अखिलेश यादव ने कहा है कि,' झूठे सपने दिखाकर जनता को बहकाना, भटकाना भाजपा की फितरत है। जनता इस बार उनको सबक सिखाने के लिए ठाने बैठी है। अफवाह और नफरत की राजनीति के दिन लद गए है। जनता चाहती है कि भाजपा से जल्दी से जल्दी छुटकारा मिले।



'उन्होंने कहा,''न एमएसपी दिलवाना, न किसानों की आय व गन्ने का दाम बढ़ाना, न बेरोज़गारों को काम दिलाना, न नारी का मान बचाना, न बेइंसाफ़ी को ख़त्म करना... अच्छा नहीं है बस आना, झूठे सपने दिखाना, बहलाना, बहकाना और बस चले जाना... जनता भी कह रही है अबकी बार है सबक़ सिखाना।  #नहीं_चाहिए_भाजपा







आप हमसे यहां भी जुड़ सकते हैं
TheViralLines News

ईमेल : thevirallines@gmail.com
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें : https://www.facebook.com/TVLNews
हमें ट्विटर पर फॉलो करें: : https://twitter.com/theViralLines
चैनल सब्सक्राइब करें : https://www.youtube.com/TheViralLines

You may like

स्टे कनेक्टेड

आपके लिए

आम मुद्दे और पढ़ें