Ram Bahal Chaudhary,Basti
Share

अधिवक्ता दिवस पर बोले अखिलेश-BJP की कलाकारी को पराजित करने के लिए समाज के सभी वर्गो को साथ लेकर एकजुट हों अधिवक्ता और सपा कार्यकर्ता

  • by: news desk
  • 03 December, 2020
अधिवक्ता दिवस पर बोले अखिलेश-BJP की कलाकारी को पराजित करने के लिए समाज के सभी वर्गो को साथ लेकर एकजुट हों अधिवक्ता और सपा कार्यकर्ता

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि भारत के स्वतंत्रता सेनानियों ने जो आदर्श स्थापित किए थे और संविधान में लोकतंत्र, समता एवं पंथनिरपेक्षता को अपनी उद्देशिका में शामिल किया था, उनकी रक्षा में पूर्ववत अधिवक्ताओं को अपनी भूमिका निभाने की आज बड़ी जरूरत है। सच को सच और झूठ को झूठ बताने तथा अन्याय के विरोध की क्षमता अधिवक्ताओं में ही होती है। आज सत्ता दल ने झूठ, नफरत और भय-भ्रम के जरिए जो राजनीतिक प्रदूषण फैला रखा है उसे अधिवक्ता समाज ही आगे आकर समाप्त कर सकता है।



अखिलेश यादव आज डाॅ0 राजेन्द्र प्रसाद जी के जन्मदिन को अधिवक्ता दिवस मनाये जाने पर समाजवादी अधिवक्ता सभा द्वारा पार्टी मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। भारत के प्रथम राष्ट्रपति डाॅ0 राजेन्द्र प्रसाद के सादगी, त्याग एवं समर्पण से भरे जीवन के कई प्रसंगों की भी चर्चा की। उन्होंने स्वतंत्रता के पूर्व और पश्चात संघर्ष और निर्माण में उनके योगदान की सराहना की।



यादव ने कहा कि भारत में न्यायालयों पर लोगों का आज भी भरोसा है। सबके साथ उससे न्याय होने का विश्वास है। किसी के साथ अन्याय न हो, असमानता समाप्त हो इसके साथ संविधान आर्थिक सामाजिक तथा राजनीतिक न्याय का भी भरोसा देता है। संविधान निर्माताओं ने शोषण मुक्त समाज का सपना देखा था। उन्होंने व्यक्ति की गरिमा तथा प्रतिष्ठा को महत्व दिया था।



अखिलेश यादव ने कहा कि जीवनमूल्यों तथा आदर्शों को तिलांजलि देकर सत्तादल का नेतृत्व नाटकीयता तथा इवेंट मैनेजमेंट जैसी चीजों में ही अपने दिन बिता रहा हैं। बुनियादी मुद्दों पर उसका ध्यान नहीं जाता है। उससे जनता को भटकाने के लिए ही आए दिन समारोह, लोकार्पण और उत्सव आयोजित किए जाते हैं। आज देश का अन्नदाता किसान आंदोलित है। नौजवान अपने अंधेरे भविष्य को लेकर निराशा में है। मंहगाई-भ्रष्टाचार से सभी परेशान है।



अखिलेश यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री जी लगातार राष्ट्रीय पर्यटन पर रहते हैं। विकास के काम ठप्प हैं किन्तु वे फिल्मसिटी जल्दी से जल्दी बना लेना चाहते हैं। भाजपा नेता कलाकार न बनें, अपने संवैधानिक दायित्व का निर्वाह करें। प्रदेश में कानून व्यवस्था का भाजपा राज में राम-नाम सत्य हो गया है। महिलाओं और बच्चियों के साथ दुष्कर्म में उत्तर प्रदेश की बदनामी देश की सीमाओं से बाहर चली गई है। 




 यादव ने अधिवक्ता समाज का आवाह्न किया कि वे भाजपा की कलाकारी को पराजित करने के लिए अधिवक्ता और समाजवादी पार्टी कार्यकर्ता समाज के सभी वर्गो को साथ लेकर एकजुट हों। भाजपा लोकतंत्र और संवैधानिक मूल्यों को मिटाने पर तुली हुई है। जनता की एकजुटता से आपातकाल के काले दिन भी बीत गए थे आज तो अधिवक्ता, नौजवान सहित सभी प्रबुद्ध एकजुट हैं। इनके रहते वादाखिलाफी की ताकतें मात खांएगी। 




इस अवसर पर राष्ट्रीय सचिव श्री राजेन्द्र चौधरी, प्रदेश अध्यक्ष श्री नरेश उत्तम पटेल, पूर्व मंत्री नवाब इकबाल महमूद तथा एमएलसी उदयवीर सिंह अरविन्द कुमार सिंह एवं संजय लाठर भी उपस्थित थे। समाजवादी अधिवक्ता सभा के उपस्थित प्रमुख लोगों में सर्वश्री प्रदीप कुमार प्रदेश अध्यक्ष, सिकन्दर प्रदेश उपाध्यक्ष, विजय कुमार जिला उपाध्यक्ष, शुभांगी द्विवेदी, संयुक्त मंत्री, अब्दुल रब प्रदेश सचिव, धीरेन्द्र सिंह सचिव तथा धीरज यादव, अभिषेक, सुजीत राजपूत, मंजीत, सौगेंद्र यादव, मनीष पऊवा, सिद्धार्थ आनन्द, अरशद मोहम्मद, मोनू सिंह यादव, शैलेन्द्र प्रताप सालिन, डीपी यादव, ज्ञान प्रकाश गुप्ता, हैदर अब्बास, लालजी यादव, विजय बहादुर तथा अमर दीप के नाम उल्लेखनीय है।





आप हमसे यहां भी जुड़ सकते हैं
TheViralLines News

ईमेल : thevirallines@gmail.com
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें : https://www.facebook.com/TVLNews
हमें ट्विटर पर फॉलो करें: : https://twitter.com/theViralLines
चैनल सब्सक्राइब करें : https://www.youtube.com/TheViralLines
Loading...

You may like

स्टे कनेक्टेड

आपके लिए

आम मुद्दे और पढ़ें