Ram Bahal Chaudhary,Basti
Share

हम सच्चे कांग्रेसी हैं, ऐसे फैसले को मेरे मृत शरीर से होकर गुजरना होगा: जितिन की तरह कांग्रेस छोड़ने के सवाल पर बोले कपिल सिब्बल

  • by: news desk
  • 10 June, 2021
हम सच्चे कांग्रेसी हैं, ऐसे फैसले को मेरे मृत शरीर से होकर गुजरना होगा: जितिन की तरह कांग्रेस छोड़ने के सवाल पर बोले कपिल सिब्बल

नई दिल्ली: कांग्रेस के दिग्गज नेता जितिन प्रसाद के भाजपा में शामिल होने के बाद से सियासी हंगामा मचा हुआ है | पूर्व कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद के पार्टी छोड़ने और भाजपा को ज्वाइन करने के बाद कांग्रेस में अंतर्कलह की सुगबुगाहट एक बार फिर शुरू हो गई हैं। बता दें कि जितिन प्रसाद के इस फैसले के बाद जी-23 समूह के सदस्यों पर एक बार नजरें टिकने लगी हैं, जिन्होंने पार्टी की हाई कमान सोनिया गांधी को पत्र लिखकर व्यापक सुधारों का आह्वाहन किया था।  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल भी 'जी-23' क्लब के प्रमुख सदस्य हैं|



कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल से पूछा गया कि अगर आपको ऐसा कदम उठाना पड़ा तो, कपिल सिब्बल ने जवाब देते हुए कहा कि ऐसे फैसले को मेरे मृत शरीर से होकर गुजरना होगा। हालांकि इस दौरान पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने पार्टी के शीर्ष नेताओं को एक साफ संदेश दे दिया है कि अब सुनने का वक्त आ गया है। जब उनसे पूछा गया कि आपको अगर ऐसा कदम उठाना पड़ा तो.. उन्होंने कहा कि ऐसे फैसले को मेरे मृत शरीर से होकर गुजरना होगा|




जितिन प्रसाद के भाजपा ज्वाइन करने पर कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने कहा कि,''जिस पार्टी के मंच से आप रोज भाजपा को गाली देते थे, सांप्रदायिक और देशविरोधी बताते थे। आज आप वही पार्टी ज्वाइन कर रहे हैं। राजनीति में जब तक विचारधारा के आधार पर आगे नहीं चलेंगे तो ऐसा लगेगा कि ये प्रसाद पॉलिटिक्स है|




कपिल सिब्बल ने कहा कि,''जितिन प्रसाद ने जो किया उसके खिलाफ मैं नहीं हूं क्योंकि जरूर कोई कारण होगा जिसका खुलासा नहीं किया गया है, लेकिन बीजेपी में शामिल होना एक ऐसी चीज है जिसे मैं नहीं समझ सकता। इससे पता चलता है कि हम 'आया राम गया राम' से 'प्रसाद' की राजनीति की ओर बढ़ रहे हैं, जहां प्रसाद मिले, आप उस पार्टी में शामिल हो जाएं।



पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने कहा कि,' मुझे यकीन है कि नेतृत्व जानता है कि समस्याएं क्या हैं और मुझे आशा है कि नेतृत्व सुनेगा क्योंकि बिना सुने कुछ भी नहीं बचता है, कोई भी कॉर्पोरेट संरचना बिना सुने जीवित नहीं रह सकती है और ऐसा ही राजनीति के साथ है। अगर आप नहीं सुनते तो बुरे दिनों में पड़ जाओगे|



कपिल सिब्बल से जब कांग्रेस नेताओं का पार्टी में विश्वास खोने पर पूछा गया, तो कपिल सिब्बल ने जवाब देते हुए कहा कि 'हम सच्चे कांग्रेसी हैं, मैं अपने जीवन में कभी भी भाजपा में शामिल होने के बारे में नहीं सोचूंगा, उन्होंने कहा कि ऐसे फैसले को मेरे मृत शरीर से होकर गुजरना होगा| हो सकता है कि अगर कांग्रेस नेतृत्व मुझे जाने के लिए कहे, तो मैं उस आधार पर पार्टी छोड़ने के बारे में सोच सकता हूं, लेकिन बीजेपी में शामिल नहीं होऊंगा।






आप हमसे यहां भी जुड़ सकते हैं
TheViralLines News

ईमेल : thevirallines@gmail.com
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें : https://www.facebook.com/TVLNews
हमें ट्विटर पर फॉलो करें: : https://twitter.com/theViralLines
चैनल सब्सक्राइब करें : https://www.youtube.com/TheViralLines
Loading...

You may like

स्टे कनेक्टेड

आपके लिए

आम मुद्दे और पढ़ें