Ram Bahal Chaudhary,Basti
Share

संसद में बोली निर्मला सीतारमण: 11 करोड़ लोगों के घरों में जो शौचालय बने हैं, क्या वे किसी के 'दामाद या जीजा हैं...हमारी पार्टी में तो जीजा नहीं हैं

  • by: news desk
  • 02 December, 2019
संसद में बोली निर्मला सीतारमण: 11 करोड़ लोगों के घरों में जो शौचालय बने हैं, क्या वे किसी के 'दामाद या जीजा हैं...हमारी पार्टी में तो जीजा नहीं हैं

नई दिल्ली:  उद्योगपति राहुल बजाज मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए शनिवार को कहा था कि देश में ऐसा माहौल है कि लोग सरकार की आलोचना नहीं कर सकते| राहुल बजाज ने कहा है कि इस समय ऐसा माहौल है कि लोग सरकार की आलोचना करने से डरते हैं कि पता नहीं उनकी आलोचना को सही से लिया जाएगा या सरकार में बैठे लोग नाराज हो जाएंगे| गृह मंत्री अमित शाह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल की मौजूदगी वाले मीडिया के एक कार्यक्रम में उन्होंने सीधे अमित शाह से ही ये बातें कहीं| राहुल बजाज ने कहा कि इससे पहले की यूपीए-2 में हम सरकार को गाली भी दे सकते थे, लेकिन अब ऐसा नहीं होता| उद्योग जगत में एक तरह से कहा गया है कि किसी को कुछ नहीं बोलना है| ऐसा माहौल ठीक नहीं है|




कराधान कानून (संशोधन) विधेयक, 2019 लोकसभा द्वारा पारित कर दिया गया है। कराधान विधि संशोधन विधेयक 2019 पर चर्चा के दौरान निर्मला सीतारमण ने कहा कि हम एक ऐसी सरकार हैं जो सुनती है, चाहे वह आलोचना हो या इनपुट..




लोकसभा में आज यानी सोमवार को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद में उद्योगपति राहुल बजाज के गृह मंत्री अमित शाह से पूछे गए सवाल के संदर्भ में कहा कि अगर आलोचनाओं को कोई सरकार है जो सुनती है, तो वह पीएम मोदी की सरकार है। हम एक ऐसी सरकार हैं जो सुनती है, चाहे वह आलोचना हो या इनपुट। जब गृह मंत्री ने एक उद्योग के नेता को जवाब दिया, तो यह स्पष्ट दृष्टिकोण के साथ था कि हम आलोचना सुनने या लेने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया में तो कुछ लोगों ने सबसे खराब वित्त मंत्री कह दिया, लेकिन मैंने कुछ नहीं कहा|






कराधान विधि संशोधन विधेयक 2019 पर चर्चा के दौरान निर्मला सीतारमण ने कहा कि मुझे बताया गया है कि मैं सबसे खराब वित्त मंत्री हूं, वे मेरा कार्यकाल खत्म होने का इंतजार भी नहीं कर रहे हैं। मैंने उनसे कहा कि कृपया मुझे और विचार दें, हम इस पर काम करेंगे। अगर कोई सरकार है जो सुनती है, तो वह पीएम मोदी की सरकार है। मुझे संसद में नाम से पुकारा जाता है। अगर किसी के डीएनए में सवाल पूछना और जवाब दिए जाने से पहले भाग जाना है, तो यह किसी और पार्टी का है न कि हमारी पार्टी का। हर बार हम नाम-कॉलिंग के बजाय जवाब देने आते हैं।





उन्होंने कहा कि हमें 'सूट-बूट की सरकार' बार-बार कहा जाता है। हमें बताया गया है कि कॉर्पोरेट कर कम करने से केवल अमीर को मदद मिलती है। मैं उन्हें बताना चाहती हूं कि कॉर्पोरेट कर कटौती कंपनी अधिनियम के अनुसार पंजीकृत सभी छोटे और बड़े व्यवसायों को मदद करती है। निर्मला सीतारमण ने कहा कि उज्ज्वला के तहत 8 करोड़ लोगों को गैस कनेक्शन मिले। आयुष्मान भारत के 68 लाख लाभार्थी कौन हैं...? वे कौन 11 cr.  लोग हैं जिनके घरों में शौचालय बने हैं...? क्या वे किसी के 'दामाद या जीजा हैं...?' हमारी पार्टी में जीजा नहीं हैं, हमारे पास केवल कार्यकर्ता...





एनसीपी MP सुप्रिया सुले ने पूछा कि, सरकार बताए कि क्या प्रत्यक्ष कर संग्रह में कमी आई है..? सरकार बताए कि मुद्रास्फीति पर काबू के लिए क्या कदम उठा रही है| सीतारमण ने कहा कि हमारी सरकार लगातार वित्तीय अनुशासन पर कायम रही है| कार्पोरेट टैक्स घटाने से निवेश बढ़ाने में मदद मिलेगी|






आप हमसे यहां भी जुड़ सकते हैं
TheViralLines News

मोबाइल नंबर : +91-9999-65-68-69
ईमेल : thevirallines@gmail.com
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें : https://www.facebook.com/TVLNews
हमें ट्विटर पर फॉलो करें: : https://twitter.com/theViralLines
चैनल सब्सक्राइब करें : https://www.youtube.com/TheViralLines
loading...
Loading...

You may like

स्टे कनेक्टेड