Ram Bahal Chaudhary,Basti
Share

संसद Live: लोकसभा में बोले अमित शाह-नागरिकता संशोधन बिल के पीछे कोई राजनीतिक एजेंडा नहीं है

  • by: news desk
  • 09 December, 2019
संसद Live: लोकसभा में बोले अमित शाह-नागरिकता संशोधन बिल के पीछे कोई राजनीतिक एजेंडा नहीं है

नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन बिल सोमवार को लोकसभा में पेश किया जाएगा| केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह लोकसभा पहुंच गए हैं। वह लोकसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक (CAB) पेश करेंगे।बीजेपी ने अपने सांसदों को व्हिप जारी कर सोमवार से बुधवार तक के लिए सांसदों से दोनों सदनों में मौजूद रहने के लिए कहा है|




Parliament LIVE Updates






एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने अपना विरोध जताते हुए इस बिल को फाड़ दिया। उन्होंने कहा, 'संविधान की प्रस्तावना भगवान या खुदा के नाम से नहीं है। आप मुस्लिम लोगों को नागरिकता मत दीजिए। मैं गृह मंत्री से बस यह जानना चाहता हूं कि मुसलमानों से इतनी नफरत क्यों है?' ओवैसी ने कहा कि विधेयक को हमें एनआरसी के नजरिए से देखना चाहिए। जो हिंदू छूट गए, उनके लिए विधेयक लाया गया। यह मुसलमानों को राज्य विहीन करने की साजिश है। उन्होंने कहा कि देश एक और बंटवारे की तरफ जा रहा है। यह विधेयक हिटलर के कानून से भी ज्यादा बदतर है।




लोकसभा में बसपा MP अफजल अंसारी,ने कहा-बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती जी ने पहले केवल यह कहा था कि नागरिकता संशोधन विधेयक असंवैधानिक है और इसका विरोध किया है। आज भी हम बिल के खिलाफ खड़े हैं।




एनसीपी की सुप्रिया सुले ने कहा हमारे लोकतंत्र का पूरा चरित्र ही समानता पर आधारित है। मैं गृह मंत्री से सहमत नहीं हूं। ये सुप्रीम कोर्ट में खारिज हो जाएगा। मैं उनसे गुजारिश करती हूं कि वह इस बिल को वापस ले लें।





बीजद के प्रसन्ना आचार्य ने कहा- हम इस बिल का समर्थन करेंगे। लेकिन हमारी मांग है कि इसमें श्रीलंका को भी शामिल करना चाहिए क्योंकि अतीत में वहां अल्पसंख्यकों पर अत्याचार हुआ है। साथ ही सरकार को इस धारणा को भी खत्म करना चाहिए कि ये बिल मुस्लिमों के खिलाफ है। 




 लोकसभा में जदयू MP राजीव रंजन सिंह ने कहा,हम इस बिल का समर्थन करते हैं। इस बिल को भारतीय नागरिकों के बहुमत और अल्पसंख्यक दोनों के प्रकाश में नहीं देखा जाना चाहिए। अगर पाकिस्तान के सताए गए अल्पसंख्यकों को भारतीय नागरिकता दी जाती है तो मुझे लगता है कि यह सही बात है।




, शिवसेना MP विनायक राउत ,ने कहा - बिल में उल्लिखित इन छह समुदायों के कितने शरणार्थी भारत में रह रहे हैं? HM ने इसका जवाब नहीं दिया, नागरिकता मिलने पर हमारी आबादी कितनी बढ़ जाएगी? इसके अलावा, श्रीलंका से तमिलों के बारे में क्या?




लोकसभा में वाईएसआरसीपी MP मिधुन रेड्डी,ने कहा- हम इस विधेयक का समर्थन करते हैं लेकिन हमारी कुछ चिंताएं भी हैं, हम उम्मीद करते हैं कि सरकार हमारी चिंताओं पर ध्यान देगी। यहां तक कि मुसलमानों के बीच भी संप्रदाय हैं जो सताए जाते हैं, हम सरकार से अनुरोध करते हैं कि वे भी बराबर व्यवहार करें




तेलंगाना राष्ट्र समिति के सांसद नमा नागेश्वर राव ने कहा- धर्मनिरपेक्ष राजनीति की सोच के तहत हम इस बिल का विरोध करते हैं। हम संविधान के नियमों का पूरी तरह पालन करते हैं। 




भाजपा की सोच विभाजनकारी- टीएमसी 
 

लोकसभा में टीएमसी सांसद अभिषेक बनर्जी ने कहा- अगर स्वामी विवेकानंद भारत के विचार के खिलाफ पेश हो रहे इस बिल को देखते तो स्तंभित रह जाते। भाजपा का भारत का आइडिया विभाजन का है। महात्मा गांधी के शब्दों को नजरअंदाज करना और सरदार पटेल की सलाह को न मानना दुर्भाग्यपूर्ण होगा। 









यह भारतीय संविधान के अनुच्छेद 14, अनुच्छेद 15, अनुच्छेद 21, अनुच्छेद 25 और 26 के खिलाफ है। यह विधेयक असंवैधानिक है और समानता के मूल अधिकार के खिलाफ है|आज गृह मंत्री ने कहा कि धर्म के आधार पर विभाजन के लिए कांग्रेस जिम्मेदार है। मैं यह स्पष्ट करना चाहता हूं कि दो राष्ट्र सिद्धांत की नींव 1935 में अहमदाबाद में सावरकर ने हिंदू महासभा के सत्र में रखी थी, न कि कांग्रेस में






Citizenship Amendment Bill 2019 पर लोकसभा में बोले गृह मंत्री अमित शाह- इस बिल के पीछे कोई राजनीतिक एजेंडा नहीं है। किसी के साथ अन्याय का सवाल नहीं।1947 में, जितने भी शरणार्थी आए, सभी भारतीय संविधान द्वारा स्वीकार किए गए, शायद ही देश का कोई ऐसा क्षेत्र होगा जहाँ पश्चिम और पूर्वी पाकिस्तान के शरणार्थी नहीं बसते थे। मनमोहन सिंह जी से लेकर लालकृष्ण आडवाणी जी तक, सभी इसी श्रेणी के हैं। हम इनर लाइन परमिट सिस्टम में मणिपुर को शामिल कर रहे हैं, यह बड़ा मुद्दा अब हल हो गया है। लंबे समय से चली आ रही इस मांग को पूरा करने के लिए मैं मणिपुर के लोगों की ओर से पीएम मोदी को धन्यवाद देता हूं।





शस्त्र (संशोधन) विधेयक, 2019 लोकसभा द्वारा पारित किया गया


शस्त्र (संशोधन) बिल 2019 पर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा स्पोर्ट्सपर्सन इससे प्रभावित नहीं होंगे, हमने ध्यान रखा है कि किसी भी खिलाड़ी को अपनी शूटिंग के अभ्यास के दौरान कोई समस्या न हो






01:49 PM · Dec 9, 2019


विधेयक केके प्रस्ताव के खिलाफ 82 मत पड़े, वहीं समर्थन में 293 मत पड़े





इन देशों से अगर मुस्लिम आवेदन करता है तो तय नियमों के अनुसार आवेदन पर विचार होगा. लेकिन इस बिल के आधार पर नहीं हो सकता क्योंकि उनकी धार्मिक आधार पर प्रताड़ना नहीं हुई है: अमित शाह




नागरिकता बिल पर भाजपा सांसद आरके सिन्हा: अगर किसी मुस्लिम व्यक्ति को पड़ोसी देश में प्रताड़ित किया जाता है तो उनके लिए 56 इस्लामिक देश हैं शरण लेने के लिए. हिंदू और सिख कहां जाएंगे. उत्तर-पूर्व में बिल का विरोध घुसपैठिए कर रहे हैं




01:19 PM · Dec 9, 2019


असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, मैं आपसे (स्पीकर) अपील करता हूं, इस तरह के कानून से देश को बचाओ और गृह मंत्री को भी बचाओ अन्यथा नूर्नबर्ग रेस कानूनों और इजरायल की नागरिकता अधिनियम में, गृह मंत्री का नाम हिटलर और डेविड बेन-गुरियन के साथ चित्रित किया जाएगा।




असदुद्दीन ओवैसी की इस टिप्पणी पर लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने कहा, कृपया ऐसी अप्राकृतिक भाषा का प्रयोग सदन  में न करें, यह टिप्पणी रिकॉर्ड से बाहर कर दी जाएगी।





01:09 PM · Dec 9, 2019



लोकसभा में टीएमसी MP सौगत रॉय ने कहा, उनका बिल विभाजनकारी और असंवैधानिक है, यह संविधान के अनुच्छेद 14 का उल्लंघन करता है। यह कानून डॉ. अम्बेडकर सहित हमारे संस्थापक पिताओं की हर चीज के खिलाफ है।





रिवोल्यूशनरी सोशलिस्ट पार्टी के सांसद  NK प्रेमचंद्रन ने कहा, विधेयक प्रस्तावना में वर्णित संविधान की मूल संरचनात्मक विशेषताओं का उल्लंघन करता है, क्योंकि धर्म पर आधारित नागरिकता का अधिकार देश के धर्मनिरपेक्ष ताने-बाने के खिलाफ है।





लोकसभा: कांग्रेस सांसद अधीर रंजन चौधरी ने नागरिकता संशोधन पर कहा, "यह हमारे देश के अल्पसंख्यक लोगों पर लक्षित कानून के अलावा कुछ नहीं"| इस पर  केंद्रीय मंत्री अमित शाह कहते हैं, "यह बिल देश में अल्पसंख्यकों के खिलाफ .001% भी नहीं है"। तब सदन से वॉकाउट मत करना.






केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने लोकसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक पेश किया




भाजपा ने दो दिसंबर को सदन में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के साथ कथित दुराचार के लिए कांग्रेस के दो सांसदों से माफी की मांग की




समाजवादी पार्टी के प्रमुख और आज़मगढ़ (उत्तर प्रदेश) के सांसद अखिलेश यादव ने कहा कि, हम नागरिकता संशोधन विधेयक (CAB) पेके खिलाफ हैं। और पार्टी हर कीमत पर इसका विरोध करेगी।





ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (AIUDF) के धुबरी सांसद (असम) बदरुद्दीन अजमल ने संसद परिसर में विरोध प्रदर्शन किया






शिक्षा ऋण की माफी के बारे में प्रश्न के दौरान लोकसभा  में मनीष तिवारी ने कहा कि, बेरोजगारी की दर आज 45-साल की उच्च पर है। वर्तमान आर्थिक मंदी, सरकार केंद्रीय डेटाबेस को बनाए रखने पर विचार करेगी, जहां उन्हें जानकारी होती है कि किसी ने ऋण लिया है। रोजगार या नहीं




भारतीय जनता पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद विजय गोयल ने दिल्ली में आग लगने की घटना का मुद्दा उठाया, जिसमें 43 लोगों की जान ले ली।




असम के धुबरी,से लोकसभा सांसद बदरुद्दीन अजमल ने कहा कि यह विधेयक संविधान के विरुद्ध और हिंदू-मुस्लिम एकता के खिलाफ है। हम इस विधेयक को खारिज कर देंगे और विपक्ष इस पर हमारे साथ है। हम इस विधेयक को पारित नहीं होने देंगे।






 अमित शाह संसद पहुंचे


केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह लोकसभा पहुंच गए हैं। वह दोपहर 12 बजे लोकसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक (CAB) पेश करेंगे। सड़क से लेकर संसद तक इसका विरोध हो रहा है।




इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग पार्टी के सांसदों ने संसद परिसर में महात्मा गांधी की मूर्ति के सामने धरना दिया





सांसद सोनल मानसिंह ने ‘यूएसए की उड़ान के लिए एयर फ्लाइट में साधन को नुकसान के कारण संगीतकारों द्वारा सामना की गई समस्या पर राज्यसभा में नोटिस दिया है। '






नागरिकता संशोधन बिल पर केंद्रीय संसदीय मामलों के मंत्री प्रल्हाद जोशी ने कहा कि ,यह विधेयक पूर्वोत्तर राज्यों और देश के हित में है। विधेयक को संसद के दोनों सदनों से मंजूरी मिल जाएगी।नागरिकता संशोधन विधेयक, 2019 को प्रश्नकाल के बाद लोकसभा में पेश किया जाना है।




टीएमसी सांसद संतनु सेन ने राज्यसभा में 'पश्चिम बंगाल राज्य का नाम बदलकर' बंगाल 'करने पर शून्यकाल नोटिस दिया है।



बीजेपी सांसद हरनाथ सिंह यादव ने 'भारतीय सेना में अहीर रेजिमेंट स्थापित करने की मांग' को लेकर राज्यसभा में शून्यकाल नोटिस दिया है।



इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (IUML) के सांसद पीके कुन्हालीकुट्टी ने लोकसभा में नागरिकता संशोधन विधेयक (CAB), 2019 की शुरूआत का विरोध करते हुए स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया है।





नागरिकता संशोधन बिल (Citizenship (Amendment) Bill) सोमवार को लोकसभा में पेश किया जाएगा| बीजेपी ने अपने सांसदों को तीन लाइन का व्हिप जारी किया है| सोमवार से बुधवार तक के लिए यह व्हिप है| सांसदों से दोनों सदनों में मौजूद रहने के लिए कहा गया है| केंद्रीय गृह मंत्री लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल (CAB) पेश करेंगे| इस बिल को लेकर लोकसभा में जोरदार बहस होने के आसार हैं|




इस बिल के पारित होते ही छह दशक पुराना नागरिकता कानून-1955 बदल जाएगा और तीन पड़ोसी देशों पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानस्तिान से आने वाले गैरमुस्लिम शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता देने की प्रक्रिया बेहद सहज हो जाएगी। सरकार की योजना सोमवार को लोकसभा में यह बिल पारित कराने के बाद मंगलवार को राज्यसभा में भी इस पर मंजूरी की मुहर लगवा लेने की है।





आप हमसे यहां भी जुड़ सकते हैं
TheViralLines News

ईमेल : thevirallines@gmail.com
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें : https://www.facebook.com/TVLNews
हमें ट्विटर पर फॉलो करें: : https://twitter.com/theViralLines
चैनल सब्सक्राइब करें : https://www.youtube.com/TheViralLines
Loading...

You may like

स्टे कनेक्टेड

आपके लिए