Ram Bahal Chaudhary
Ram Bahal Chaudhary,Basti
Share

2018 में पब्लिक सेक्टर के 21 में से सिर्फ 2 बैंक ही मुनाफे में थे, परंतु 2021 में केवल दो बैंकों को हुआ घाटा : केंद्र सरकार

  • by: news desk
  • 16 September, 2021
2018 में पब्लिक सेक्टर के 21 में से सिर्फ 2 बैंक ही मुनाफे में थे,  परंतु 2021 में केवल दो बैंकों को हुआ घाटा : केंद्र सरकार

नई दिल्ली: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि 2018 में सार्वजनिक क्षेत्र के 21 में से सिर्फ 2 बैंक ही मुनाफे में थे। लेकिन 2021 में केवल 2 बैंकों में घाटा दर्ज़ किया गया। इसका साथ-साथ बैंक जनता के बीच पैसा भी जुटा रहे हैं| निर्मला सीतारमण ने कहा कि,''पिछले छह सालों में 5 लाख करोड़ से ज्यादा बैड लोन की रिकवरी की गई| मार्च 2018 से अब तक 3 लाख करोड़ से ज्यादा रिकवरी की गई| सिर्फ 2018-19 में बैंकों ने 1.2 लाख करोड़ रुपए का लोन रिकवर किया जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है. इस दौरान कुछ कंपनियों के राइट-ऑफ हो चुके लोन की भी वसूली की गई|





साल 2021 में केवल दो बैंकों को हुआ घाटा 

2018 में सार्वजनिक क्षेत्र के 21 में से सिर्फ 2 बैंक ही मुनाफे में थे। लेकिन 2021 में केवल 2 बैंकों में घाटा दर्ज़ किया गया। इसका साथ-साथ बैंक जनता के बीच पैसा भी जुटा रहे हैं: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 



सीतारमण ने कहा कि सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से बैंकों की वित्तीय हालत में काफी सुधार हुआ है| साल 2018 में सार्वजनिक क्षेत्र के 21 में से सिर्फ दो बैंक ही मुनाफे में थे लेकिन साल 2021 में केवल दो बैंकों को घाटा हुआ|




बैंक भी मुनाफा कमा रहे हैं और बाजार से पैसा जुटा रहे हैं

जैसा कि हम 4R की मान्यता, संकल्प, पुनर्पूंजीकरण और सुधार की रणनीति के साथ बढ़ रहे हैं, बैंक आज त्वरित सुधारात्मक कार्रवाई से बाहर आने में सक्षम हैं। बैंक भी मुनाफा कमा रहे हैं और बाजार से पैसा जुटा रहे हैं: केंद्रीय मंत्री




पिछले 6 वर्षों के दौरान बैंकों द्वारा 5,01,479 लाख करोड़ रुपये की वसूली 

पिछले 6 वर्षों के दौरान बैंकों द्वारा 5,01,479 लाख करोड़ रुपये की वसूली की गई। केवल बट्टे खाते में डाली गई संपत्ति से  99,996 करोड़ रुपये वसूल की गई राशि शामिल है|नेशनल एसेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनी लिमिटेड बैंकों की बैलेंस शीट में एनपीए को एकत्रित करेगी और पेशेवर रूप से उनका प्रबंधन और निपटान करेगी। NARCL के साथ, हम एक इंडिया डेब्ट रिजॉल्यूशन कंपनी लिमिटेड भी स्थापित कर रहे हैं: केंद्रीय मंत्री





आईबीए को ‘बैड बैंक’ स्थापित करने का काम सौंपा गया है
उल्लेखनीय है कि भारतीय बैंक संघ यानी आईबीए (Indian Banks’ Association) को ‘बैड बैंक’ स्थापित करने का काम सौंपा गया है|प्रस्तावित बैड बैंक या एनएआरसीएल (National Asset Reconstruction Co. Ltd) लोन के लिए सहमत मूल्य का 15 फीसदी नकद में भुगतान करेगा और बाकी 85 फीसदी सरकार की गारंटी वाली सिक्योरिटी रिसीट्स में होगा|पिछले महीने आईबीए ने एनएआरसीएल की स्थापना के लिए लाइसेंस हासिल करने के उद्देश्य से आरबीआई के पास आवेदन दिया था|





आप हमसे यहां भी जुड़ सकते हैं
TheViralLines News

ईमेल : thevirallines@gmail.com
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें : https://www.facebook.com/TVLNews
हमें ट्विटर पर फॉलो करें: : https://twitter.com/theViralLines
चैनल सब्सक्राइब करें : https://www.youtube.com/TheViralLines

You may like

स्टे कनेक्टेड