Ram Bahal Chaudhary,Basti
Share

गोंडा ट्रिपल हत्याकांड: तिहरे हत्याकांड के मुख्य आरोपी रेलवे कर्मचारी का षड़यंत्रकारी मित्र गिरफ्तार, 72 घंटे बाद भी मुख्य आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर

  • by: news desk
  • 27 November, 2021
गोंडा ट्रिपल हत्याकांड: तिहरे हत्याकांड के मुख्य आरोपी रेलवे कर्मचारी का षड़यंत्रकारी मित्र गिरफ्तार, 72 घंटे बाद भी मुख्य आरोपी पुलिस की पकड़ से दूर

● ट्रिपल मर्डर मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी अशोक कुमार के षड़यंत्रकारी मित्र को किया गिरफ्तार

● आरोपी रेलवे कर्मचारी शत्रुघन को नगर कोतवाली पुलिस ने धारा-120 बी के तहत किया गिरफ्तार

● हत्याकाण्ड की घटना के रेलवे कर्मचारी अशोक कुमार की षड़यंत्रकारी आरोपी मित्र ने की थी मदद

● मुख्य आरोपी रेलवे कर्मचारी के कहने पर मित्र ने घटना में प्रयुक्त online/offline सामानों को खरीदवाया था

● घटना से पहले मुख्य आरोपी रेलवे कर्मचारी अशोक कुमार ने बैंक से निकाले थे काफी रुपए

● दोनों (अशोक व शत्रुघन) गोण्डा में गैंगमैन के पद पर नियुक्त है



गोंडा: गोंडा ट्रिपल मर्डर का मामला: उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले में 24 नवंबर की देर शाम ट्रिपल हत्याकांड में फरार चल रहे मुख्य आरोपी अशोक कुमार उर्फ गोविंद के षड़यंत्रकारी मित्र को गिरफ्तार कर लिया गया है| ट्रिपल मर्डर मामले में नगर कोतवाली पुलिस ने मुख्य आरोपी अशोक कुमार उर्फ गोविंद के षड़यंत्रकारी मित्र शत्रुघन को धारा-120 बी के तहत गिरफ्तार किया| फिलहाल तिहरे हत्याकांड में 72 घंटे बाद भी आरोपी अशोक कुमार पुलिस की पकड़ से दूर हैं। मुख्य आरोपी अशोक कुमार की गिरफ्तारी के लिये लगाई गई 12 टीमें प्रयास कर रही है| मुख्य आरोपी अशोक कुमार के मिलने वाले सम्भावित स्थानों पर टीमें लगातार दबिश दे रही है, कई अन्य टीमें भिन्न-भिन्न प्रान्त/जनपदों में भी दे रही है दबिश| 



षड़यंत्रकारी आरोपी शत्रुघन ने ट्रिपल मर्डर घटना को लेकर कई खुलासे किये| घटना से पहले मुख्य आरोपी अशोक कुमार ने बैंक से निकाले थे काफी रुपए.| हत्याकाण्ड की घटना के मुख्य आरोपी अशोक कुमार की षड़यंत्रकारी आरोपी मित्र ने मदद की थी| मुख्य आरोपी के कहने पर षड़यंत्रकारी आरोपी ने घटना में प्रयुक्त ऑनलाईन/ऑफलाईन सामानों को खरीदवाया था |



शत्रुघन ने बताया,''अशोक कुमार ने घटना कारित करने से पूर्व एक नया सिम लिया था| इसकी हमे जानकारी, एंव सम्पूर्ण घटना की भी जानकारी हमें पहले से थी| महराजगंज जिले के ग्राम रूदौली थाना निचलौल का रहने वाला है आरोपी शत्रुघन पुत्र मुक्तिनाथ| गोंडा रेलवे में गैंगमैन के पद पर तैनात है आरोपी शत्रुघन|




गोंडा पुलिस ने बताया '24 नवंबर 2021 को थाना नगर कोतवाली क्षेत्र के अन्तर्गत शिवनगर इमलिया गुरूदयाल में एक ही परिवार के तीन लोगो की हत्या की घटना घटित हुई थी जिसमें सूचना मिलते ही पुलिस उपमहानिरीक्षक देवीपाटन रेंज व पुलिस अधीक्षक गोण्डा संतोष कुमार मिश्रा मय पुलिसबल के साथ तत्काल मौके पर पहुचकर घटनास्थल का निरीक्षण कर आरोपी अभियुक्त की शीघ्र गिरफ्तारी करने हेतु एस0ओ0जी0/सर्विलांस सहित पुलिस की 12 टीमें गठित कर भिन्न-भिन्न जनपदों के लिए रवाना की गयी थी तथा डॉग स्क्वॉड व फील्ड यूनिट द्वारा घटनास्थल की सूक्ष्मता से जांच व साक्ष्य संकलन की कार्यवाही की गयी थी। 



पुलिस अधीक्षक द्वारा प्रभारी निरीक्षक को0नगर व गठित टीमों को यह निर्देश दिए गये थे कि घटना में हर बिन्दु पर गहनता से जांच किया जाए कि मुख्य अभियुक्त के अलावा अगर अन्य भी कोई सह अभियुक्त सम्मिलित हो तो उसके बारे में भी जानकारी कर प्रभावी कार्यवाही किया जाए। घटनास्थल का निरीक्षण अपर पुलिस महानिदेशक गोरखपुर जोन गोरखपुर के द्वारा भी किया गया तथा उनके द्वारा भी आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गये थे।



पुलिस अधीक्षक गोण्डा द्वारा दिए गए निर्देशो के अनुक्रम में प्रभारी निरीक्षक को0नगर द्वारा घटना की गहनता से जॉच पड़ताल की गयी। विवेचना के दौरान प्रकाश में आए अभियुक्त शत्रुघन पुत्र मुक्तिनाथ निवासी ग्राम रूदौली थाना निचलौल जनपद महराजगंज को आज दिनांक 27.11.2021 को साक्ष्यों के आधार पर गिरफ्तार कर लिया गया। 




अभियुक्त से गहनता से पूछतांछ की गयी तो उसने अपना जुर्म स्वीकार करते हुए बताया कि मैं तथा अशोक कुमार (मुख्य अभियुक्त) आपस में घनिष्ठ मित्र है, मैं भी रेलवे विभाग गोण्डा में गैंगमैन के पद पर नियुक्त हॅू तथा अशोक कुमार के साथ ही नौकरी करता हॅू। अशोक कुमार जिस लड़की की हत्या किया है वह उस लड़की से बहुत प्यार करता था तथा शादी करना चाहता था लेकिन लड़की व उसके परिवार वाले शादी करने से मना कर दिए थे जिससे वह काफी परेशान रहता था तथा उसने मुझसे लड़की व उसके पूरे परिवार की हत्या करने की बात बतायी थी जिसकी प्लानिंग वह काफी दिनों से कर रहा था। 



विगत 15 दिनों से वह बैंक से काफी पैसा निकाला था जिसका प्रयोग घटना से पूर्व किया था व बाद में भी करने वाला था। मैं उसके कहने पर उसके साथ जाकर घटना में प्रयुक्त ऑनलाईन/ऑफलाईन सामानों को खरीदवाया था। उसने घटना कारित करने से पूर्व एक नया सिम लिया था इसकी हमे जानकारी थी एंव सम्पूर्ण घटना की भी जानकारी हमें पहले से थी। मुख्य अभियुक्त अशोक कुमार की गिरफ्तारी हेतु एस0ओ0जी0 व अन्य गठित पुलिस टीमों द्वारा उसके मिलने वाले सम्भावित स्थानों पर दबिश दी जा रही है तथा कई अन्य टीमें भिन्न-भिन्न प्रान्त/जनपदों में भी दबिश दे रहीं है।  





हत्याकांड में फरार आरोपी पर इनाम की राशि बढ़ाकर हुई एक लाख

ट्रिपल मर्डर के आरोपी अशोक कुमार पर इनाम की रकम को 50 हजार से बढ़ाकर एक लाख कर दिया गया है। वह रेलवे कर्मचारी है। ऐसे में पुलिस को शक है कि कहीं वह दूर भागकर न निकल जाए। इसीलिए दूसरी एजेंसियों को भी अलर्ट किया गया है। शुक्रवार को एडीजी अखिल कुमार ने बताया,''ट्रिपल मर्डर मामले में फरार आरोपी पर घोषित इनाम की राशि 50 हज़ार से बढ़ाकर 1 लाख कर दी गई है| जानकारी देने वाले को 1 लाख रुपए का इनाम दिया जाएगा| 



रेल की मदद से भागने का है शक

तिहरे हत्याकांड के मामले में एडीजी अखिल कुमार गोरखपुर जोन ने बताया की आरोपी अशोक कुमार की गिरफ्तारी के लिए 12 टीमें लगाई गई हैं। आरोपी रेलवे में गैंगमैन के पद पर कार्यरत है। तो संभावना है कि कहीं रेल की मदद लेकर दूर न चला जाए। इसीलिए देश की विभिन्न एजेंसियों को भी सूचनाएं भेजी जा रही है। प्रेम प्रसंग को लेकर अशोक कुमार ने प्रेमिका सहित 3 लोगों की हत्या की थी।




24 नवंबर की शाम प्रेमी ने प्रेमिका सहित तीन लोगों को उतारा था मौत के घाट

प्रेमिका सपना के पिता देवी प्रसाद ने उसकी सादी कहीं और तय कर दी थी। जिससे अशोक भड़क गया। वह बुधवार शाम तलवार लेकर सपना के घर में घुस गया। फिर उसने देवी प्रसाद, पार्वती, सपना उर्फ शिंपा और उपासना को काट डाला। तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि छोटी बेटी उपासना की हालत गंभीर होने पर लखनऊ रेफर किया गया था। आरोपी का अब तक कोई सुराग नहीं लग पाया है।



मृतक लड़की का प्रेमी से संबंध था| प्रेमी लगातार शादी करने का दबाव बना रहा था, लेकिन लड़की के परिवार वालों ने उसकी शादी अलग कहीं तय कर दी थी| यह बात जानकर युवक नाराज हो गया, इसके बाद युवक लगातार प्रेमिका के परिवार वालों को शादी करने के लिए लगातार धमकियां दे रहा था, लेकिन परिवार वाले शादी करने से मना कर रहे थे |इसी वजह से प्रेमी ने नाराज होकर इस घटना को अंजाम दिया है|




बुधवार देर शाम अशोक ने रिटायर्ड रेलकर्मी देवी प्रसाद, उनकी पत्नी पार्वती, बेटी सपना उर्फ शिंपा की धारदार हथियार से मारकर हत्या कर दी थी। जबकि छोटी बेटी उपासना गंभीर रूप से घायल हो गई थी| पुलिस ने आरोपी की पहचान करवाते हुए उसकी फ़ोटो सोशल मीडिया पर जारी कर दी और आरोपी पर 1 लाख की इनाम की घोषणा भी कर दी है|





रिपोर्ट-अतुल कुमार यादव



Video:

आप हमसे यहां भी जुड़ सकते हैं
TVL News

हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें : https://www.facebook.com/TVLNews
चैनल सब्सक्राइब करें : https://www.youtube.com/TheViralLines
हमें ट्विटर पर फॉलो करें: https://twitter.com/theViralLines
ईमेल : thevirallines@gmail.com

You may like

स्टे कनेक्टेड