Ram Bahal Chaudhary,Basti
Share

गोण्डा: छुट्टा जानवरों से परेशान होकर किसानों ने, खंड विकास अधिकारी कार्यालय में बंद किए अवांरा पशु

  • by: news desk
  • 14 January, 2020
  • 0
गोण्डा: छुट्टा जानवरों से परेशान होकर किसानों ने, खंड विकास अधिकारी कार्यालय में बंद किए अवांरा पशु

गोंडा: खबर गोंडा से जहां आज छुटा जानवरों से परेशान किसानों ने 03 दर्जन के ऊपर छुट्टा जानवरों को पकड़ने के बाद उन्हें खंड विकास कार्यालय में बांध दिया। किसानों का आरोप है कि वह इस संबंध में मुख्यमंत्री कार्यालय तक पत्राचार कर चुके हैं बावजूद इसके उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही जबकि खंड विकास कार्यालय से उन्हें निर्देश भी प्राप्त है कि जिन जानवरों को उन्होंने पकड़ा है उन्हें गौशाला में रखा जाएगा लेकिन गांव के पंचायत सचिव और प्रधान की अनदेखी से यह जानवर उनके खेतों को नुकसान पहुंचा रहे हैं और कोई उनकी सुनने वाला नहीं है।






जहां एक तरफ आवारा पशुओं से परेशान किसान पशुओं को पकड़कर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और पंचायत भवन में कैद कर रहे हैं तो दूसरी तरफ इतनी कड़ाके की ठंड और कोहरे में किसान अपने खेत की रखवाली करने को मजबूर हैं  ₹50000 की लागत से कटीले तार लगाने के बावजूद भी किसानों की फसल नहीं बच रही है जिससे वह रात दिन अपनी फसल की रखवाली करने को मजबूर हैं।





खंड विकास कार्यालय रुपईडीह से सटे छितौनी गांव में आज सुबह दर्जनो किसान छुट्टा जानवरों को लेकर काफी आक्रोशित दिखाई दिए। इन किसानों ने जिन जानवरों को अपने गांव में बांध रखा था उन्हें खोला और सुबह सवेरे लेकर रुपईडीह ब्लॉक पहुंचे। जहां इन्होंने जानवरों को खंड विकास कार्यालय में ही बांध दिया। विकास खंड कार्यालय में जानवरों के बांधे जाते हैं यहां कार्यरत कर्मचारी कार्यालय छोड़ भाग खड़े हुए। आपको बता दें कि जिस कार्यालय में खंड विकास अधिकारी बैठते हैं वहीं पर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र व पंचायत भवन भी है। जहां जानवरों के बांधे जाने से लोगों को काफी दिक्कतें उठानी पड़ी।





गांव के किसानों का आरोप है कि मुख्यमंत्री कार्यालय से जब उन्होंने पत्राचार किया तो उन्होंने उनकी शिकायत को संबंधित अधिकारी के सुपुर्द करते हुए इसके निस्तारण के निर्देश दिए। जहां से शिकायत की सुनवाई करते हुए इन जानवरों को गौशाला में रखे जाने के निर्देश भी अफसरों को दिए गए लेकिन इसके बाद भी छुट्टा जानवरों को गौशाला में नहीं भेजा गया और वह लगातार उनकी खेतों को नुकसान पहुंचा रहे हैं। जिस पर उन्होंने इन जानवरों को पकड़कर वीडियो कार्यालय में बांधा है अब आगे अधिकारी जाने की जानवरों का उन्हें करना क्या है।




वहीं इस पूरे मामले पर उप जिलाधिकारी वीर बहादुर का कहना है कि आज सुबह ऐसा मामला सामने आया था कि कुछ जानवर गांव वाले लाकर सार्वजनिक भवन में कैद कर रहे हैं रुपईडीह ब्लॉक के सामने परिसर में छोड़ रहे हैं जिस पर नायब तहसीलदार को मौके पर भेजकर उसको शॉट आउट करा लिया है उस जानवरों को एक अस्थाई गौशाला के रूप में स्थापित करके शिफ्ट कराया गया है जैसे ही और गौशाला जो हमारे अगल-बगल चल रही है उसमें स्थान खाली पाए जाने पर तो हम उस पर उनको स्विफ्ट कराएंगे किसानों का यह कहना है वह जानवर खेतों में घूमकर फसल को तबाह कर रहे थे इसीलिए उन लोगों ने पकड़कर एक जगह सार्वजनिक लाकर उनको बांध रहे थे और इस मामले पर पूरा प्रशासन सतर्क हैं मुख्य विकास अधिकारी के साथ हम लोग भी लगे हुए हैं कहीं भी ऐसी कोई शिकायत है तो तुरंत उसको दिखाया जाता है।






रिपोर्ट - अतुल कुमार यादव


Video:

आप हमसे यहां भी जुड़ सकते हैं
TheViralLines News

ईमेल : thevirallines@gmail.com
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें : https://www.facebook.com/TVLNews
हमें ट्विटर पर फॉलो करें: : https://twitter.com/theViralLines
चैनल सब्सक्राइब करें : https://www.youtube.com/TheViralLines
Loading...

You may like

स्टे कनेक्टेड

आपके लिए

आम मुद्दे और पढ़ें

Please LIKE TVL News Page. Thank you