Ram Bahal Chaudhary,Basti
Share

गोंडा: तीन दलित बेटियों पर एसिड अटैक का मामला, पीड़ितों को नियमानुसार मिलेगी क्षति पूर्ति, जिलाधिकारी ने दी जानकारी

  • by: news desk
  • 13 October, 2020
गोंडा: तीन दलित बेटियों पर एसिड अटैक का मामला, पीड़ितों को नियमानुसार मिलेगी क्षति पूर्ति, जिलाधिकारी ने दी जानकारी

गोंडा: यूपी के गोंडा जिले में एसिड अटैक का बड़ा मामला सामने आया है। जहां तीन सगी बहनों पर सोते समय एसिड से अटैक किया गया है। इस अटैक मे बड़ी बहन गंभीर रूप से झुलस गई है जबकि उसकी दो छोटी बहनों पर भी तेजाब के छीटें पड़े हैं। तीनों को जिला अस्पताल मे भर्ती कराया गया है जहां उनका इलाज चल रहा है। घटना के कारणों का पता नहीं चल सका है।फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।



दलित बेटियों पर एसिड अटैक मामले का जिलाधिकारी डॉ.नितिन बंसल ने संज्ञान लिया है| एसिड अटैक पीड़ितों को नियमानुसार मिलेगी क्षति पूर्ति| पीड़ितो को नियमानुसार क्षति पूर्ति दिलाए जाने की कार्यवाही शुरू| सूचना विभाग के माध्यम से जिलाधिकारी डॉ.नितिन बंसल ने दी जानकारी| परसपुर थाना क्षेत्र के पसका गांव में हुआ था दलित बेटियों पर एसिड अटैक।




एसिड अटैक का यह सनसनीखेज मामला परसपुर थाना क्षेत्र के पक्का गांव का है। बताया जा रहा है कि तीनों बहनें एक ही कमरे में सो रही थी। कमरे मे लगे रोशनदान से तेजाब फेंका गया हैं। बड़ी बहन के ऊपर अधिक मात्रा मे तेजाब गिरा है और वह बुरी तरह से झुलस गई है जबकि दो अन्य बहनों पर तेजाब के छीटें पड़े हैं। तीनों बहने अनुसूचित जाति की हैं। बड़ी बहन की उम्र करीब 17 वर्ष है जबकि एक को उम्र 12 व सबसे छोटी की उम्र करीब 8 वर्ष है। एसिड अटैक की इस लोमहर्षक वारदात से गांव मे हड़कंप मच गया है।



पीड़िता के पिता का कहना है कि तीनों बेटियां एक ही कमरे में सो रही थी कि अचानक खिड़की से किसी ने उन पर तेजाब फेंक दिया है। तीनों बेटियां झुलस गई हैं और उन्हे जिला अस्पताल मे भर्ती कराया गया है। हमारी किसी से कोई रंजिश नहीं है।परसपुर एसओ सुधीर सिंह ने एसिड अटैक की पुष्टि की है और पूरे मामले की जांच की जा रही है।




वहीं इस पूरे मामले को लेकर जिले के पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पांडेय ने बताया कि तीन सगी बहनों पर किसी केमिकल से अटैक हुआ है जिला अस्पताल में इनका इलाज चल रहा है सभी की हालत सामान्य है मौके पर फॉरेंसिक टीम ,डॉग स्क्वायड व पुलिस टीम पूरे मामले की जांच की जा रही है जांच के बाद ही पता चल पाएगा किस केमिकल से किया गया है।



गोंडा पुलिस अधीक्षक ने कहा,''ललड़कियों की हालत स्थिर है। बड़ी बहन की उम्र क़रीब 17 साल है जो क़रीब 30 फीसद जल गयी है| जबकि  अन्य दो में एक की उम्र 12 साल है जो 20 फीसद जल गई है और सबसे छोटी लड़की की उम्र 8 साल है जो 7 फीसद जली है| जांच चल रही है|






Video:

आप हमसे यहां भी जुड़ सकते हैं
TheViralLines News

ईमेल : thevirallines@gmail.com
हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें : https://www.facebook.com/TVLNews
हमें ट्विटर पर फॉलो करें: : https://twitter.com/theViralLines
चैनल सब्सक्राइब करें : https://www.youtube.com/TheViralLines
Loading...

You may like

स्टे कनेक्टेड

आपके लिए

आम मुद्दे और पढ़ें